बाबरी मस्जिद राम जन्मभूमि विवाद में मुस्लिम पक्षकारों की बात हुई पुरी, सुप्रीम कोर्ट में अब हिन्दू पक्षकार रखेंगे बात!

बाबरी मस्जिद राम जन्मभूमि विवाद में मुस्लिम पक्षकारों की बात हुई पुरी, सुप्रीम कोर्ट में अब हिन्दू पक्षकार रखेंगे बात!
Click for full image

अयोध्या मामले को बड़ी पीठ के पास भेजे जाने के मुद्दे पर मुस्लिम पक्षकारों की ओर से कल मंगलवार को दलीलें पूरी हो गईं हालाँकि इस दौरान मुस्लिम पक्षकारों ने मामले के लंबित होने पर भी हिंदू पक्षकारों और संगठनों द्वारा की जा रही बयानबाजी को आपत्तिजनक माना।

उल्लेखनीय है कि चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय विशेष पीठ इस मामले की सुनवाई कर रही है। जहाँ मुस्लिम पक्षकारों के वकील राजीव धवन ने इस बात पर आपत्ति ली कि हिंदू पक्ष की तरफ से बयानबाजी की जा रही है,यह अवमानना की तरह है।

जबकि उनके पक्षकार ने अनुशासन रखा है। इस संवेदनशील मामले को लेकर कोई निर्णय लेना उचित नहीं है। धवन ने 1994 के इस्माइल फारूखी मामले का उल्लेख किया जिसमें सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि मस्जिद में नमाज पढ़ना इस्लाम धर्म का अभिन्न हिस्सा नहीं है। पहले यह फैसला लिया जाए कि इस मामले को बड़ी पीठ के पास भेजा जाए या नहीं।

बता दें कि कल 17 मई को मामले की अगली सुनवाई होगी। इसमें हिंदू पक्षकारों की ओर से दलीलें पेश की जाएगी। इसके बाद मामले को संविधान पीठ को भेजे जाने के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट अपना निर्णय सुरक्षित रखे जाने की संभावना है।

Top Stories