Wednesday , December 13 2017

बाबरी मस्जिद- राम जन्मभूमि विवाद का हल खोजने के लिए राउंड टेबल कांफ्रेंस

नई दिल्ली: अयोध्या में बाबरी मस्जिद राम जन्मभूमि विवाद का समाधान खोजने के लिए दो अक्टूबर को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जन्मदिन के अवसर पर पुणे की एमआईटी विश्व पेस विश्वविद्यालय द्वारा यहां एक राष्ट्रीय राउंड टेबल कांफ्रेंस का आयोजित किया गया है।

विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर विश्वनाथ डी कराड ने आज यहां एक प्रेस कान्फ़्रेंस में ये खबर‌ देते हुए बताया कि छः दिसंबर1992 के बाद से राजनिति का शिकार होजाने वाले बाबरी मस्जिद राम जन्मभूमि विवाद का हल राजनिति से हट कर धार्मिक बातचीत द्वारा सुखद तौर पर हल करने की कोशिश करनी होगी क्यों कि ये मामला राजनिति से हल होने वाला नहीं है।

उन्होंने कहा कि उनके विश्वविद्यालय ने इस दिशा में शुरुआत करते हुए एक ऐसा प्रस्ताव तैयार किया है जो हिंदू और मुसलमान दोनों के लिए स्वीकार्य हो सकता है। इस प्रस्ताव पर बात चीत के लिए दो अक्टूबर को राउंड टेबल कांफ्रेंस की गई है। कान्फ़्रेंस में दस विश्वविद्यालय के कुलपति, प्रसिद्ध वैज्ञानिक, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य, सामाजिक कार्यकर्ता, शिक्षाविदों, विचारकों और मुस्लिम और हिंदू संगठनों के कई प्रतिनिधि भाग लेंगे और प्रस्ताव पर अपनी राय देंगे पर अपनी राय देंगे।

TOPPOPULARRECENT