Friday , December 15 2017

बाबा रामदेव की प्रापर्टी हुकूमत के कब्जे में

सोलन, 23 फरवरी: योग गुरु बाबा रामदेव को लीज पर दिए गए करीब 96 बीघा ज़मीन के अलाट्मेंट को रद्द करने के बाद हिमाचल हुकूमत ने पतंजलि योगपीठ अहाते को अपने कब्जे में ले लिया है। कल दोपहर 2.30 बजे एसपी सोलन, एसडीएम कंडाघाट टीम फोर्स के साथ साधुप

सोलन, 23 फरवरी: योग गुरु बाबा रामदेव को लीज पर दिए गए करीब 96 बीघा ज़मीन के अलाट्मेंट को रद्द करने के बाद हिमाचल हुकूमत ने पतंजलि योगपीठ अहाते को अपने कब्जे में ले लिया है। कल दोपहर 2.30 बजे एसपी सोलन, एसडीएम कंडाघाट टीम फोर्स के साथ साधुपुल अहाते पहुंचे और अहाते पर कब्जा कर लिया।

एसडीएम कंडाघाट एलआर वर्मा ने डीएम सोलन की ओर से आर्डर पतंजलि योग पीठ के कंवेनर (Convener) रामेश्वर दत्त कौशिक को दिया। पतंजलि योग बेंच को दिए गए आर्डर में लिखा गया है कि कंपीटेंट अथॉरिटी ने आपकी लीज कैंसिल कर दी है। लीज खत्म होने के बाद अब योगपीठ जमीन की मालिक नहीं है, इसलिए जमीन को इमारत सनेत हुकूमत के हवाले किया जाए।

आर्डर मिलने के बाद कुछ देर चले ड्रामे के बाद योगपीठ ने अहाते को खाली कर दिया। शाम को डीसी और एसपी सोलन ने कब्जा लेने की रिपोर्ट चीफ सेक्रेटरी शिमला करे को फैक्स कर दी। जिला इंतेजामिया और पुलिस ने जुमा शाम करीब साढ़े पांच बजे पूरे अहाते को सील कर दिया और जमीन के सरकारी हसूल का नोटिस मेन गेट पर चस्पा किया।

जुमा के दिन सुबह करीब 10: 00 जुन्गा बटालियन से जवानों से भरी चार बसें ज़ेर ए तामीर जगह पर पहुंची। चप्पे चप्पे में जवानों की तैनाती हुई। डीसी सोलन मीरा मोहंती और एसपी सोलन रमेश छाजटा ने पूरी मुहिम को खुद लीड किया। डीसी ने बताया कि हुकूमत के हुक्म के मुताबिक पतंजलि योगपीठ की यह लीज रद्द कर पूरे 96 बीघा अहाते का कब्जा वापस ले लिया गया है। अब इस जमीन और प्रापर्टी की मालिक हुकूमत है।

TOPPOPULARRECENT