बाबुल सुप्रियो से बदसलूकी करने वाले छात्रों की पिटाई के आरोप में बीजेपी कार्यकर्ता गिरफ्तार

बाबुल सुप्रियो से बदसलूकी करने वाले छात्रों की पिटाई के आरोप में बीजेपी कार्यकर्ता गिरफ्तार

जादवपुर यूनिवर्सिटी कैंपस में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो से बदसलूकी करने वाले छात्र देबंजन बल्लभ चटर्जी पर हमला करने के आरोप में बंगाल के पूर्वी बर्दवान की एक जिला अदालत ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सभी समर्थकों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

बर्दवान थाने के प्रभारी निरीक्षक पिंटू साहा ने बताया कि गुरुवार को देबंजन बल्लभ पर हमला करने वाले सभी आरोपी को 14 दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। देबंजन ने  बुधवार शाम को हमला करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। हमने सीसीटीवी फुटेज की मदद से हमलावरों की पहचान कर ली।

अपनी शिकायत में, बल्लभ ने आरोप लगाया कि वह और उसकी एक महिला दोस्त को बर्दवान में अलीशा बस स्टैंड पर भाजपा के कुछ समर्थकों ने पीटा। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि उनके साथ मारपीट करने वालों ने कहा कि उन्होंने बाबुल सुप्रियो के साथ जो किया, उसके लिए उन्हें और भुगतना होगा।

कोलकाता के संस्कृत कॉलेज में भाषाविज्ञान के द्वितीय वर्ष के छात्र, देबंजन बल्लभ कोलकाता से लगभग 95 किमी दूर, पूर्वी बर्दवान के रैना से हैं। वह अपने माता-पिता से मिलने बर्दवान आए थे।

गिरफ्तारी पर प्रतिक्रिया देते हुए, बर्दवान के भाजपा संगठनात्मक जिला अध्यक्ष, संदीप नंदी ने कहा कि पुलिस ने हमारे लोगों को झूठे आरोपों में गिरफ्तार किया। यह विडंबना है कि पुलिस एक केंद्रीय मंत्री को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहती है और घंटों तक मामले को जानते हुए भी कोई कदम नहीं उठाती है। लेकिन वे एक ऐसे युवा को सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं, जो वाम समर्थक है, और मंत्री को धोखा दे चुका है।

बता दें कि 19 सितंबर को केंद्रीय राज्यमंत्री और पश्चिम बंगाल के आसनसोल से सांसद बाबुल सुप्रियो के साथ कोलकाता की जादवपुर यूनिवर्सिटी में छात्रों ने बहुत बुरी तरह बर्ताव किया था। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में जब सुप्रियो पहुंचे तो लेफ्ट से जुड़े छात्र संगठनों ने उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की। केंद्रीय मंत्री के कुर्ते फाड़ दिए, मारपीट की और चश्मा भी तोड़ डाला। बदसलूकी करने वाले छात्रों की तस्वीरें भी सामने आई है।

Top Stories