Monday , December 18 2017

बायो डाईवरसिटी कान्फ़्रैंस की तैयारीयों में तेज़ी

रियासत के सदर मुक़ाम(केपीटल) हैदराबाद में माह-ए-अक्तूबर में बायो डायवरसिटी (हयातयाती तनव्वो) मेट के पेश नज़र हुकूमत आंध्रा प्रदेश तय्यारी-ओ-यादगारी एतबारात से इक़दामात कर रही है।

रियासत के सदर मुक़ाम(केपीटल) हैदराबाद में माह-ए-अक्तूबर में बायो डायवरसिटी (हयातयाती तनव्वो) मेट के पेश नज़र हुकूमत आंध्रा प्रदेश तय्यारी-ओ-यादगारी एतबारात से इक़दामात कर रही है।

हुकूमत हयातयाती तनव्वो पर आलमी कनवेनशन के यादगार के तौर पर बायो डायवरसिटी पर एक म्यूज़ीयम क़ायम करने का मंसूबा रखती है।

इसी तरह कान्फ़्रैंस आफ़ पार्टीज़ के आग़ाज़ से कब्ल एक पाएलन (मीनार)इस्तादा(लगाने) और एक बायो डायवरसिटी पार्क भी फ़रोग़ दिया जाएगा। इस कनवेनशन में 193 ममालिक से 8,000 मंदूबीन (मेहमान)हिस्सा लेंगे।

इस कनवेनशन से तकरीबन 10 ममालिक के सरबराह और 90-100 वुज़राए जंगलात मुख़्तलिफ़ उमूर पर इज़हार ख़्याल करेंगे।

रियासती चीफ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी ने कनवेनशन का जायज़ा लेते हुए कहा कि बायो डाय वरसिटी पार्क को एक मुनासिब मुक़ाम तरजीही तौर पर हैदराबाद के मुज़ाफ़ात में दूला पली रिज़र्व फॉरेस्ट एरिया में क़ायम किया जाना चाहीए।

इन इक़दामात का मक़सद अवाम ख़ास कर तलबा और बच्चों में हयातयाती (जिव जनतु) विरसा और इस के तहफ़्फ़ुज़ की अफादियत(फाइदे) के बारे में शऊर बेदार करना है।

हिंदुस्तान ना सिर्फ कान्फ़्रैंस आफ़ पार्टीज़ का दस्तख़त कनिनुंदा(करने वाला) है बल्कि एक अहम रुक्न है। हिंदुस्तान दुनिया के बड़े हयातयाती ज़ख़ाइर रखने वाला मुलक है।

TOPPOPULARRECENT