Monday , January 22 2018

बारिश से चेन्नई शहर में समंदर, रांची में भी मौसम ने ली करवट

रांची : मौसम ने बुध को अचानक करवट बदली। दिन भर बादल छाए रहने के बाद शाम में रांची समेत रियासत के कई हिस्सों में गरज के साथ बारिश हुई। रांची और आसपास के इलाकों में बादल दो मिलीमीटर बरसा। इससे दर्जे हरारत में करीब दो डिग्री की गिरावट आई। इससे फिजा में ठंडक घुल गई।

मौसम सायन्स्दाँ के मुताबिक बंगाल की खलीज में बने दबाव की वजह से यह बारिश हुई है। अगले दो दिनों तक हवा का दबाव बने रहने की उम्मीद है। ऐसे में जुमेरात को भी रियासत के कुछ हिस्सों में छिटपुट बारिश हो सकती है। मौसम साइंसदां का कहना है कि दो-तीन दिनों के बाद जब बादल छंटेंगे और आसमान साफ होगा, तो ठंड बढ़ जाएगी।

मौसम महकमा के डाइरेक्टर बीके मंडल ने कहा कि दिसंबर में हिमालय की तरफ से शुमाल से जुनूब की तरफ हवा बहनी चाहिए। मगर मशरिक़ से हवा बहने की वजह ऐसा नहीं हो पा रहा है। यही वजह है कि रांची में अब तक कड़ाके की सर्दी शुरू नहीं हुई है।

रांची में पहले गर्मी के मौसम में भी सर्दी का अहसास होता था। उस वक़्त जंगल का इलाका ज़्यादा था और पोलुशन कम। लेकिन अब जंगल कम हो रहे हैं। शहरों में कंक्रीट के जंगल खड़े हो रहे हैं। पोलुशन भी बढ़ रहा है। मौसम के गड़बड़ाने का यही अहम वजह है।

 

TOPPOPULARRECENT