Friday , December 15 2017

बार बार सर का दर्द होने पर अपनी ग़िज़ा पर ग़ौर करें

28 फ़रवरी: क्या आप को अक्सर सर में दर्द का मसला दरपेश है?

28 फ़रवरी: क्या आप को अक्सर सर में दर्द का मसला दरपेश है? लेकिन ये सोचिये कि सर में दर्द की वजह आप के खाने की उदात भी हो सकती है जिस पर आप ग़ौर नहीं करते। अगर आप अपनी ग़िज़ा और उसे मुक़र्ररा वक़्त की पाबंदी करें तो सर के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। आईए देखते हैं कि आप की गिज़ा में ऐसी क्या चीज़ है जो सरदर्द की वजह बन रही है। सब से पहले इन हज़रात को चौकन्ना होना चाहिये जो शराबनोशी करते हैं उन्हें एक अलेहदा नौईयत का सरदर्द होता है जिसे आम अलफ़ाज़ में हैंग ओवर कहते हैं जो इंतिहाई परेशानी का बाइस होता है।

शराब में टाइरामाईन नामी माद्दा होता है जो सरदर्द और डी हाईड्रेशन की कैफियत पैदा करता है। शराब की तरह चॉकलेट में भी सैर विटू नैन की सतह बढ़ाने वाले अमीनो एसिड,टाइरामाईन ही होते हैं। लिहाज़ा ऐसे अफ़राद जो सरदर्द में मुबतला होते आए हैं, उन्हें माहिरीन सेहत चॉकलेट खाने की सलाह हरगिज़ नहीं देते।

इसी तरह रोज़ाना काफ़ी पीने वाले एक रोज़ भी काफ़ी ना पियें तो उन्हें सरदर्द होने लगता है। वजह ये नहीं है कि उन्होंने काफ़ी नहीं पी बल्कि वजह ये है कि वो काफ़ी पीने के आदी हो चुके हैं और काफ़ी के ना मिलने से वो घबराहट और चिड़चिड़ेपन के शिकार भी होजाते हैं। नाशते में पनीर का भी ज़ाइद इस्तिमाल हमें भले ही ज़ाइक़ादार महसूस हो, लेकिन इस के बिलानागा इस्तिमाल से भी सर का दर्द हो सकता है। ज़रूरत से ज़्यादा आइसक्रीम खाना भी सर के दर्द में मुबतला कर देता है।

TOPPOPULARRECENT