Monday , December 18 2017

बाल-विवाह और दहेज़ प्रथा को रोकने के लिए नीतीश कुमार ने बनाई योजना, बड़े स्तर पर होगा प्रचार- प्रसार

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आह्वान पर बिहार को दहेज प्रथा और बाल विवाह मुक्त करने का बीड़ा उठाया गया है। माज कल्याण विभाग इसको लेकर पूरा खाका बना चुका हैै। अब इसे विभिन्न स्तरों में लागू किया जा रहा है।

सरकार की मंशा है कि ग्राम स्तर तक दहेज प्रथा और बाल विवाह के खिलाफ आवाज बुलंद की जाये। एक-एक आदमी को जागरूक किया जायेगा।

समाज के इन कुरीतियों को लेकर सावधान किया जायेगा। इसके परिणाम बताये जाएं, ताकि इसके खिलाफ पूरा समाज एक हो जाये।इसमें विभिन्न धर्मों से ताल्लुक रखने वाले गुरुओं की भूमिका को भी नकारा नहीं जा सकता।

प्रचार-प्रसार को लेकर सरकार ने बड़े स्तर पर योजना बनायी है। आधा दर्जन से अधिक विभागों को अलग-अलग जिम्मेदारियों तय कर दी गयी हैं। इसी क्रम में सरकार ने विभिन्न धर्मों से जुड़े प्रभावशाली लोगों को एक मंच पर लाने की योजना बनायी है।

ये वह लोग होंगे, जो शादी ब्याह कराने में मुख्य भूमिका में होते हैं. इन लोगों के माध्यम से भी दहेज प्रथा और बाल विवाह के खिलाफ अभियान को तेज किया जायेगा।

TOPPOPULARRECENT