Thursday , December 14 2017

बाढ़ के कारण हुई क्षति में मृतकों की संख्या 200 तक पहुंची, हज़ारो हुए बेघर

देश भर में बाढ़ और लगातार बारिश के कारण लगभग 200 लोगों को क्षति पहुंची है , जबकि गुजरात, राजस्थान, असम, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड और अन्य जगहों में हजारों लोगों को अपने घर छोड़ कर अस्थायी आश्रमों में रहने जाना पड़ रहा है।

गुजरात के बनासकांठा जिले में पानी भरने के कारण एक भयानक त्रासदी हुई और खरिया गांव में बनस नदी के किनारे से एक ही परिवार के 17 सदस्यों के शव बरामद हुए हैं।

बचाव कार्यकर्ताओं ने क्षेत्र से कुल 25 मृतकों के शरीर को निकाला है और उनका मानना है की इस संख्या के बढ़ने की पूरी सम्भावना है। यह क्षेत्र पूरी तरह से पानी से भर गया था, जब राज्य अधिकारियों ने दंतिवाड़ा बांध से बनस नदी तक 1.5 लाख क्यूसिक पानी छोड़ा।

बुधवार को भारतीय वायुसेना और सेना ने अपने बचाव कार्य को तेज कर दिया और एक दर्जन हेलिकॉप्टरों और मोटरबोटों को आंतरिक गांवों में भेजना शुरू कर दिया जहाँ पानी भर गया है और हज़ारो लोग फंसे हुए हैं। प्रिंसिपल सेक्रेटरी (राजस्व) पंकज कुमार ने कहा, “एजेंसियों द्वारा बुधवार को 650 से अधिक लोगों को बचाया गया है, जिनमें 272 लोग वायु सेना के हेलिकॉप्टरों के माध्यम से बचाये गए हैं।”

नवीनतम अनुमानों के अनुसार, 1 जून को गुजरात में कम से कम 111 लोगों की मौत हुई है।

50,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया गया है। इनमें से ज्यादातर सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों, उत्तरी गुजरात, बनसकांथा और पाटन के निवासी हैं।

TOPPOPULARRECENT