Thursday , November 23 2017
Home / Sports / बिग थ्री करप्शन का सबब बनेगी: टी आटी

बिग थ्री करप्शन का सबब बनेगी: टी आटी

दुनिया के मुख़्तलिफ़ ममालिक में करप्शन की सतह को जांचने वाले बैनुल-अक़वामी इदारे ट्रांसपेरैंसी इंटरनेशनल (टी आई ) ने कहा है कि इंटरनेशनल क्रिकेट कौंसिल में तीन ममालिक की ठेकेदारी क्रिकेट में करप्शन के बढावा का बाइस बनेगी।

दुनिया के मुख़्तलिफ़ ममालिक में करप्शन की सतह को जांचने वाले बैनुल-अक़वामी इदारे ट्रांसपेरैंसी इंटरनेशनल (टी आई ) ने कहा है कि इंटरनेशनल क्रिकेट कौंसिल में तीन ममालिक की ठेकेदारी क्रिकेट में करप्शन के बढावा का बाइस बनेगी।

टी आटी ने सिंगापुर में आई सी सी के बिग थ्री को आलमी क्रिकेट का अमली तौर पर ठीक‌ बनाने से मुताल्लिक़ होने वाली इस्लाहात पर अपने रद्द-ए-अमल में कहा है कि इंटरनेशनल क्रिकेट को अच्छी इंतिज़ामिया की ज़रूरत है ना कि ताक़त के चंद हाथों में हो। टी आटी ने क्रिकेट कौंसिल से मांग‌ किया है कि वो आई सी सी में इस्लाहात(सुधार) से मुताल्लिक़ वूल्फ कमीशन पर अपना बाज़ाबता रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करे।

आई सी सी ने 2011 में इंगलैंड और वेल्स के साबिक़ चीफ़ जस्टिस लार्ड वूल्फ से आई सी सी में इस्लाहात से मुताल्लिक़ एक रिपोर्ट बनवाई थी। हटी आटी के मुताबिक‌ आई सी सी की मुजव्वज़ा इस्लाहात इन उसूलों के मुताबिक़त नहीं रखतीं जो वूल्फ कमीशन में तजवीज़ किए गए थे। सिंगापुर में मंज़ूर होने वाली तजावीज़ अच्छी हुक्मरानी और जम्हूरियत के उसूलों को नज़रअंदाज किया गया है और इस्लाहात की मुजव्वज़ा दस्तावेज़ में क्रिकेट के खेल से बदउनवानी के ख़तरे से निमटने के लिए कुछ नहीं कियागया है।

नए मंसूबे के तहत क्रिकेट खेलने वाले कई ममालिक को हक़ राय दही से भी महरूम कर दिया गया है। इसके इलावा उसकी वज़ाहत नहीं की गई है कि कौंसिल इंतिज़ामी सतह पर क्रिकेट में बदउनवानी के ख़तरात से कैसे निमटेगी। आई सी सी की तमाम ताक़त का तीन बोर्डों में इर्तिकाज़ का बज़ाहिर मक़सद इख़्तयारात का नाजायज़ इस्तिमाल और ज़ाती फ़ायदे मालूम होती है।

इन इस्लाहात से ताक़त उन चंद हाथों में चली जाएगी जो किसी को जवाबदेह नहीं होंगे। क्रिकेट में मैच फिक्सिंग और स्पाट फिक्सिंग जैसी बदउनवानी उभर रही है लेकिन इन इस्लाहात में करप्शन से निमटने के कोई इक़दामात तजवीज़ नहीं किए गए हैं।

TOPPOPULARRECENT