Monday , December 18 2017

बिग थ्री क्रिकेट को माज़ी में ढकेल रहे हैं: इमरान ख़ान

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के साबिक़ कप्तान इमरान ख़ान ने कहा है कि बिग थ्री हिंदुस्तान, ऑस्ट्रेलिया और इंगलैंड आई सी सी की तशकील-ए-नौ के नाम पर तसादुम के बीज बू रहे हैं जिस से सिर्फ़ उन्ही तीन मुल्कों की इजारादारी क़ायम होगी।

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के साबिक़ कप्तान इमरान ख़ान ने कहा है कि बिग थ्री हिंदुस्तान, ऑस्ट्रेलिया और इंगलैंड आई सी सी की तशकील-ए-नौ के नाम पर तसादुम के बीज बू रहे हैं जिस से सिर्फ़ उन्ही तीन मुल्कों की इजारादारी क़ायम होगी।

वेबसाइट को दिए गए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि तीन मुल्कों के इस मुजव्वज़ा मुसव्वदे ने उन्हें माज़ी की याद दिला दी है जहां इंगलैंड और ऑस्ट्रेलिया की इजारादारी थी।साबिक़ कप्तान ने कहा कि उन्होंने 1993 में आई सी सी के इजलास में शिरकत की थी जहां वो इंगलैंड और ऑस्ट्रेलिया की रवैया देख कर हैरान रह गए थे।

ये वो दौर था जब इन दो मुल्कों को वीटो पावर हासिल था और अब लगता है कि वो दौर वापिस लाने की कोशिशें हो रही हैं। पाकिस्तान और हिंदुस्तान ने आई सी सी में जम्हूरियत लाने और दो ममालिक की इजारादारी ख़त्म करने में अहम किरदार अदा किया था लेकिन अब हिंदुस्तान अपनी माली हैसियत और इंगलैंड और ऑस्ट्रेलिया की हिमायत के सबब आई सी सी को दुबारा माज़ी के दौर में ले जाने में मसरूफ़ है।

अगर में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड में होता तो इस नए नौ आबादियाती निज़ाम की ज़बर्दस्त मुख़ालिफ़त करता। आई सी सी को क्रिकेट की बेहतरी के लिए काम करने वाला इदारा बनाने की ज़रूरत है इस में चंद मुल्कों की इजारादारी नहीं होनी चाहिए। इमरान ने मज़ीद कहा कि पाकिस्तान को अपनी क्रिकेट का मेयार बुलंद करना होगा और इसके इलावा वेस्ट इंडीज़ को भी यही कुछ करने की ज़रूरत है ताकि शायक़ीन और ब्रॉडकास्टर्स उन्हें एहमियत दे सकें।

TOPPOPULARRECENT