Sunday , February 18 2018

बिहार: इंटरमीडिएट परीक्षा का क्वेश्चन पेपर लीक

पटना। बिहार में चल रहे इंटरमीडिएट परीक्षा में प्रश्‍नपत्र लीक होने का मामला हर दिन सुनने को मिल रहा है। वहीं आज भैतिकी की परीक्षा के दौरान औरंगाबाद और समस्‍तीपुर में प्रश्‍नपत्र लीक होने का मामला सामने आया है।

औरंगाबाद में शम्भु पट्टी उच्च विद्यालय परीक्षा केंद्र के बाहर परीक्षा शुरू होने से पूर्व ही प्रश्‍नपत्र लीक होने की खबर है. बाहर लोगों को वस्‍तुनिष्‍ठ प्रश्‍नों के उत्तर के साथ देखा गया।

पिछले दिनों भी परीक्षापत्र लीक होने की खबर थी। जिसका बिहार बोर्ड के चेयरमैन आनंद किशोर ने खंडन किया था। कई और जिलों से प्रश्‍नपत्र लीक होने का मामला प्रकाश में आया है।

बेगुसराय के एसडीओ बृजकिशोर चौधरी ने प्रश्‍नपत्र लीक होने की खबर की पुष्टि की है। उन्‍होंने कहा कि प्रश्‍नपत्र के पेज नं. 11 और 15 की तसवीर लीक हुई है। जिस मोबाइल नंबर से प्रश्‍नपत्र की तसवीर वायरल की गयी है उसकी पहचान की जा रही है. गिरफ्तारी का भी प्रयास हो रहा है।

उन्‍होंने कहा कि जिस व्‍हाट्सअप ग्रूप पर प्रश्‍नपत्र वायरल हुआ था, वहां से लीक करने वाले का नंबर लिया गया है। कार्रवाई की जा रही है। पूरे मामले की जांच के बाद ही स्‍पष्‍ट रूप से कुछ कहा जा सकता है।

परीक्षा खत्‍म होने के बाद बाहर निकले परीक्षार्थियों से जब प्रश्‍नपत्र लीक होने के बारे में पूछा गया तो कई ने जानकारी नहीं होने की बात कही, वहीं कुछ छात्र आक्रोशित थे और कह रहे थे ऐसे में परिश्रम का फल नहीं मिलेगा। हमलोग परीक्षा की तैयारी के लिए इतना मेहनत करते हैं और कुछ लोग चिटिंग कर अच्‍छे नंबरों से पास हो जाते हैं।

कुछ अभिभावकों ने प्रश्‍नपत्र लीक की बात पर रोष प्रकट करते हुए कहा कि ये प्रतिभा के साथ खिलवाड़ है। बिहार बोर्ड की मिलीभगत से ही ऐसा होता है। हर बार की यही कहानी है। तेज बच्‍चे पिछड़ जा रहे हैं और नकल करने वाले आगे निकल जा रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT