Wednesday , January 17 2018

बिहार के रक्सौल में पकड़ा गया आईएसआई एजेंट

एनआईए और मशरिकी चम्पारण पुलिस की टीम ने बुध को रक्सौल के पनटोका से आईएसआई एजेंट और जाली नोट के धंधेबाज शारदा शंकर कुशवाहा को दबोच लिया। शारदा असल तौर से नेपाल के बारा जिले के चिउटाहां का रहने वाला है। यह दुबई और पाकिस्तान से जाली न

एनआईए और मशरिकी चम्पारण पुलिस की टीम ने बुध को रक्सौल के पनटोका से आईएसआई एजेंट और जाली नोट के धंधेबाज शारदा शंकर कुशवाहा को दबोच लिया। शारदा असल तौर से नेपाल के बारा जिले के चिउटाहां का रहने वाला है। यह दुबई और पाकिस्तान से जाली नोट लाकर भारत में खपाता है। इसके कई शागिर्द मोतिहारी और वीरगंज में भी है। इन्हीं की मदद से यह नेपाल से पनटोका के रास्ते रक्सौल सरहद में दाखिल कर रहा था।

पुलिस के मुताबिक दिल्ली के एनआईए थाने में भी शारदा के खिलाफ 50 लाख रुपये के जाली नोट मामले में एफआईआर (काड नंबर 02/14) दर्ज है। इसमें दुबई से 50 लाख रुपये के जाली नोट लाने और पुलिस को देख नोट फेंककर भागने का इल्ज़ाम है। उसके बाद से यानी पांच माह से एनआईए की टीम शारदा के पीछे लगी थी। मामले में एसपी की हिदायत में तशकील टीम के मदद से कामयाबी मिली।

आईएम चीफ यासीन भटकल से उसके ताल्लुक की भी तहकीकात पुलिस कर रही है। यहां बता दें कि भटकल करीब छह माह पहले रक्सौल बॉर्डर से पकड़ा गया था। एसपी सुधीर कुमार सिंह ने सहाफ़ियों को बताया कि शारदा से एनआईए की टीम पूछताछ कर रही है। इसकी गिरफ्तारी के लिए रक्सौल थाना सदर अशोक कुमार सिंह और हरैया थाने के कुंदन कुमार सिंह को लगाया गया था। शारदा का ताल्लुक रक्सौल से भी है। इसी वजह से वह पनटोका के रास्ते रक्सौल सरहद में घुस रहा था। इसी दौरान एनआईए और पुलिस टीम ने उसे धर दबोचा।

जाली नोट का नेपाल चीफ है शारदा

पुलिस के मुताबिक शारदा पाकिस्तान, दुबई और मलेशिया से जाली नोट का चैनल बनाने में जुटा था। वह दुबई से हवाई रास्ते से जाली नोट लाकर भारत में खपाता था। मार्च 2014 में दुबई से भारत आने के दौरान पुलिस को देख वह 50 लाख रुपये छोड़ भाग निकला था। उसके बाद से एनआईए की टीम उसके पीछे लगी थी। एसपी ने बताया कि शारदा भारत-नेपाल खुली सरहद का फाइदा उठाकर जाली नोट के धंधे को अंजाम दे रहा था। इसी वजह से उसे जाली नोट के धंधे का नेपाल चीफ भी कहा जाता है। एसपी ने कहा कि इसकी गिरफ्तारी से जाली नोट के एक बड़ा नेटवर्क बर्बाद होगा। इससे इस इलाक़े से जाली नोट के धंधे पर मगरीबी चम्पारण पुलिस रोक लगाएगी।

मोतिहारी में भी शारदा के सात शागिर्द

भारत-नेपाल खुली सरहद से जाली नोट के धंधे में शारदा के मदद के लिए मोतिहारी के सात लोगों को निशानदेही किया गया है। पुलिस इन लोगों के खिलाफ तहक़ीक़ात की जा रही है। जांच के बाद सातों धंधेबाज पुलिस गिरफ्त में होंगे। एसपी ने बताया कि अच्छी कमाई के लालच में बेराजगार नौजवान इस धंधे से जुड़ रहे हैं। कई लोग साबिक़ में पकड़े भी जा चुके हैं। एक साल पहले प्रमोद कुशवाहा हरसिद्धि से गिरफ्तार हुआ था। उसके ताल्लुक भी पाक के लोगों से उजागर हुए थे।

TOPPOPULARRECENT