बिहार: गठबंधन की सरकार में नीतीश कुमार ने किया बेहतरीन काम

बिहार: गठबंधन की सरकार में नीतीश कुमार ने किया बेहतरीन काम
Click for full image

पटना। बिहार की महागठबंधन सरकार बनने के बाद नीतीश कुमार ने अपने एक-एक वादों को पूरा शुरू किया और सबसे पहले मुख्यमंत्री ने महिलाओं के लिए सरकारी नौकरियों में 35% आरक्षण लागु कर दिया। इसके बाद नीतीश कुमार ने महिलाओं से किया अपना दूसरा वादा भी जल्द ही पूरा कर दिया। 1 अप्रैल 2016 से राज्य में पूर्ण शराबबंदी की घोषणा कर दी। सरकार के लगातार फैसले से विपक्ष हिल गई और फिर नितीश कुमार को जंगलराज पर घेरना शुरू किया। सरकार ने बड़े आपराधियों को पकड़ने में भी तत्परता दिखा कर जनता का दिल जीतती रही।

नीतीश कुमार ने अपने रिपोर्ट कार्ड में मेडिकल, इंजीनियरिंग, नर्सिंग, पॉलिटेकनिक और आई टी आई संस्थान खोलने को लेकर सीएम के एलान के भी पांच साल में पूरा होने का दावा किया गया है। इसके अलावा साल लोक शिकायत निवारण कानून के लागू होने से लोगों की परेशानियां बेहद कम होने का भी दावा किया है। नीतीश कुमार ने स्टूडेंट क्रेडिट, हर-घर बिजली, हर घर नल योजना शुरू करने को लेकर भी रिपोर्ट कार्ड में दिखाया हैं। हालांकि शराबबंदी पर जोड़ ज्यादा दिया गया हैं।

महिलाओं के लिए 35 फीसदी आरक्षण लागू किया गया
स्टार्ट-अप नीति लागू किया, 500 करोड़ रूपये का फंड बनाया
फरवरी, 2017 से सभी कॉलेजों, यूनिवर्सिटी में वाई-फाई देंगे
2 अक्टूबर से लागू हो गयी स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना, 5 लाख छात्रों को लोन दिखायेंगे। स्वयं सहायता भत्ता योजना भी शुरू हुई, 69 लाख बेरोजगारों को भत्ता देंगे। हर घर बिजली, पानी, शौचालय, पक्की सड़क की योजना भी शुरू किया।

इसके अलावा रिपोर्ट कार्ड में कई फायदे और डिटेल में कार्यों को दर्शाया गया हैं जिनमें सबसे ज्यादा शराबबंदी के फायदे गिनाये गये हैं। जैसे अपराध में आयी भारी कमी, सूबे में आयी शांति, सरकार ने 9441 शराबियों का इलाज कर उन्हें सुधारा, 10 हजार 318 लोगों को जेल भेजा,7 हजार 9 47 मुकदमे दर्ज किये और शराब पर रोक के लिए पुलिस ने मारे 86 हजार 438 छापे।

Top Stories