Thursday , April 26 2018

बिहार: दंगों के बाद बीजेपी को झटका देने की तैयारी में नीतीश कुमार, चल सकते हैं नयी चाल!

बिहार के राजनीतिक गलियारों से मिल रही खबरों से लग रहा है जैसे एक बार फिर बिहार में भाजपा के लिए नई मुसीबतें खड़ी होती दिखाई दे रही है, बिहार में हुए दंगों के बाद कयास लगाए जा रहे है कि भविष्य में नितीश कुमार एक बार फिर नया राजनीतिक दांव खेल सकते है, भाजपा से अलग होकर तीसरा मोर्चा बनाने की तैयारी में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।

सूत्रों से मिल रही खबर के अनुसार बाबा साहेब अम्बेडकर की हाल ही में 127 वीं जयंती 14 अप्रेल को आने वाली है, ऐसे में इस मौके पर एक ही मंच पर बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार, रामविलास पासवान और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के नेता उपेंद्र कुशवाहा एक साथ नजर आ सकते है, जिसके बाद अंदाजा लगाया जा रहा है कि यह तीनो बिहार में भाजपा, आरजेडी से अलग तीसरा मोर्चा खोल सकते है।

इन तीनों के साथ आने से बिहार की राजनीति में जातिगत वोट बैंक का बड़ा समीकरण बनते दिखाई देगा, इस समीकरण के अनुसार गैर-यादव ओबीसी और महादलितों को मिलाकर बिहार में 38 प्रतिशत का वोटबैंक बनता है, जो किसी भी पार्टी को सत्ता पर बैठाने और उखाड़ने में महत्वपूर्ण काम कर सकता है, अब असल में 14 अप्रेल को ही पता चलेगा की बिहार की राजनीति किस दिशा में जाएगी।

TOPPOPULARRECENT