बिहार में अब कांट्रैक्ट मुलाज़िमीन होंगे मुस्तकिल

बिहार में अब कांट्रैक्ट मुलाज़िमीन होंगे मुस्तकिल
रियासत में कांट्रैक्ट पर मुखतलिफ़ महकमा में तकर्रुरी किये गये तकरीबन तीन लाख मुलाज़िम के मुस्तकिल का रास्ता साफ हो गया है। मंगल को रियासत कैबिनेट ने इस सिलसिले में चीफ़ सेक्रेटरी अंजनी कुमार सिंह की सदारत में एक कमेटी की तशकील करने

रियासत में कांट्रैक्ट पर मुखतलिफ़ महकमा में तकर्रुरी किये गये तकरीबन तीन लाख मुलाज़िम के मुस्तकिल का रास्ता साफ हो गया है। मंगल को रियासत कैबिनेट ने इस सिलसिले में चीफ़ सेक्रेटरी अंजनी कुमार सिंह की सदारत में एक कमेटी की तशकील करने का फैसला लिया। यह कमेटी कांट्रैक्ट पर तकर्रुरी मुलाज़िम की सर्विस मुस्तकिल करने के तरीकों पर गौर करेगी।

चीफ़ सेक्रेटरी की सदारत में तशकील कमेटी में फाइनेंस महकमा, जेनरल इंतेजामिया, तालीम, सेहत, पीडब्ल्यूडी और पानी वसायल महकमा के प्रिन्सिपल सेक्रेटरी को मेम्बर बनाया गया है। यह कमेटी कांट्रैक्ट मुलाज़िम की सर्विस मुस्तकिल करने के तमाम नुक्तों पर गौर कर हुकूमत को सिफ़ारिश करेगी। कमेटी की सिफ़ारिश पर रियसती हुकूमत आगे फैसला लेगी। इस फैसले से डॉक्टर, इंजीनियर, ममता कारकुनान, डाटा इंट्री ऑपरेटर, पंचायत रोजगार सेक्रेटरी, आंगनबाड़ी सेविका और सहायिका, टोला सेवक समेत ब्लॉक दफ्तर से रियासत हेड क्वार्टर में काम कर रहे ऐसे मुलाज़िम की सर्विस मुस्तकिल की जा सकेगी।

Top Stories