Friday , December 15 2017

बिहार में आज़ाद ई सहाफ़त पर पी सी आई रिपोर्ट, एसेम्बली में हंगामा

पटना 21 फरवरी: बिहार क़ानूनसाज़ एसेम्बली में अपोज़ीशन राष्ट्रीय जनता दल (आर जे डी) ने प्रेस कौंसल आफ़ इंडिया की रिपोर्ट के हवाले से रियासती हुकूमत को सख़्त तन्क़ीद का निशाना बनाया कियो कि इस रिपोर्ट में इल्ज़ाम आइद किया गया कि हुकूमत अपनी ताईद केलिए मीडिया को मजबूर कर रही है।

आर जे डी के अरकान अपने तहरीक अलतवा को मुस्तर्द किए जाने के बाद ऐवान के वस्त में जमा होगए और बिहार में आज़ादी सहाफ़त से मुताल्लिक़ प्रेस कौंसल आफ़ इंडिया (पी सी आई) की रिपोर्ट के हवाले से हुकूमत के ख़िलाफ़ तन्क़ीद और नारा बाज़ी का आग़ाज़ करदिया।

अपोज़ीशन लीडर अब्दुलबारी सिद्दीक़ी ने स्पीकर उदय नारायण चौधरी से दरख़ास्त की कि अगर वो उन की तहरीक अलतवा मुस्तर्द ही करना चाहते हैं तो कम से कम इस मसला पर ख़ुसूसी बहस की इजाज़त दें। आर जे डी के एहितजाजी अरकान ने नितिश कुमार हुकूमत के ख़िलाफ़ काफ़ी देर तक नारा बाज़ी की और इल्ज़ाम आइद किया कि रियासती हुकूमत आज़ाद ई सहाफ़त को सल्ब कर रही है और चंद अख़बारात और न्यूज़ एजंसियों को भारी इश्तिहारात देते हुए अपने हक़ में काम करने केलिए मजबूर कर रही है।

आर जे डी अरकान ने आज ऐवान की कार्रवाई के आग़ाज़ से क़बल ही एसेम्बली के गेट‌ पर नारा बाज़ी का आग़ाज़ करदिया था लेकिन ये मसला उस वक़्त संगीन मोड़ इख़तियार कर गया जब डिप्टी चीफ मिनिस्टर सुशील कुमार मोदी और अपोज़ीशन लीडर
अब्दुल‌ बारी सिद्दीक़ी बिहार में आज़ादी सहाफ़त पर आई पी सी चेयर‌मेन मारकंडे काटजू की तरफ़ से तशकील शूदा तीन रुकनी कमेटी की सदाक़त पर एक दूसरे को चैलेंज करते हुए बहस-ओ-तकरार पर उतर आए।

मोदी ने दावा किया कि पी सी आई के एक रुकन के मुताबिक़ इस रिपोर्ट को कौंसल ने ताहाल मंज़ूरी नहीं दी है बल्कि इस का अफ़शा-ए-होगया है। ताहम अब्दुलबारी सिद्दीक़ी ने इसरार किया कि ये रिपोर्ट बिलकुल बा ज़ाबता और बाक़ायदा तौर पर सरकारी अहमियत की हामिल है और अगर इस पर सुशील कुमार मोदी को यक़ीन नहीं है तो वो आई पी सी चेयरमेन काटजू से रास्त बात चीत करें। इस मसला पर आर जे डी अरकान ने वक़फ़ा सिफ़र के दौरान भी अपनी एहतिजाज जारी रखा।

TOPPOPULARRECENT