Tuesday , November 21 2017
Home / Bihar/Jharkhand / बिहार में खुलेगा बहालियों का पिटारा

बिहार में खुलेगा बहालियों का पिटारा

पटना : बुध का दिन बिहार के नौजवानों के लिए कई तरह की बहालियों की खुशखबरी लेकर आया। एसेम्बली में जहां तालीम वजीर अशोक चौधरी ने हाई स्कूल और प्लस टू के टीचरों के बहाली की अमल जल्द शुरू करने की एलान की वहीं एसेम्बली में आमदनी और ज़मीन सुधार वजीर मदन मोहन झा ने अमीनों की बहाली की बात कही। नियम में थोड़ा बदलाव कर यह बहाली की जाएगी। इतना ही नहीं, एग्रीकल्चर महकमा में करीब चार हजार समन्वयकों की बहाली अगले तीन-चार महीने के अंदर होने की इमकान है। हाई स्कूल और प्लस टू के टीचरों के बहाली की अमल जल्द शुरू होगी। खास कर मैथ्स, सायंस, अंग्रेजी वगैरह सब्जेक्ट के टीचरों की बहाली सरकार की तरज़ीह है। इन सब्जेक्ट में टीचरों की कमी से पढ़ाई में रुकावट आ रही है।

तालीम वजीर अशोक चौधरी ने बुध को एसेम्बली में यह जानकारी दी। तालीम वजीर ने कहा कि टीचरों की बहाली अमल को और आसान बनाने की कवायद शुरू कर दी गई है। वजीर महकमा के 2016-17 के आमदनी और खर्च के असल तजवीज पर सरकार का जवाब दे रहे थे। मदन मोहन झा ने कहा कि सरकार अमीनों की बहाली का नियम बदलने जा रही है। बहाली नियम को आसान किया जा रहा है। बहाली के लिए इंटर पास होने के साथ तीन महीने की ट्रेनिंग लाज़मी कर दी गई है।

उन्होंने कहा कि जल्द ही मुलाजिम सलेक्शन कमीशन को बहाली के लिए लेटर भेजी जाएगी। अभी रियासत में अमीन की पढ़ाई के लिए कोई अदारा नहीं है। यही वजह है कि गुजिश्ता साल सलेक्टेड नौजवान के पास कोई सर्टिफिकेट नहीं होने से उन्हें अयोग्य करार दे दिया गया। बहाली के लिए अर्हता तय करने में भी उस वक़्त कहीं ना कहीं चूक हुई है। गुजिश्ता साल महकमा ने 721 अमीनों की बहाली के लिए लेटर मुलाजिम सलेक्शन कमीशन को दी थी।

TOPPOPULARRECENT