Thursday , December 14 2017

बिहार में गैस की बुन्याद पर सनअतों की लिया खुला दरवाजा

पटना 26 अप्रैल : रियासत में गैस की बुन्याद पर सनअतों के तरक्की के लिए दरवाजा खुलनेवाला है, खासकर तौर पर बरसों से बंद बरौनी खाद कारखाना के फिर से खुलने की का इमकान है। साथ ही सीएनजी की बुन्याद पर गाड़ियों के ओप्रेस्नल के लिए रियासत को

पटना 26 अप्रैल : रियासत में गैस की बुन्याद पर सनअतों के तरक्की के लिए दरवाजा खुलनेवाला है, खासकर तौर पर बरसों से बंद बरौनी खाद कारखाना के फिर से खुलने की का इमकान है। साथ ही सीएनजी की बुन्याद पर गाड़ियों के ओप्रेस्नल के लिए रियासत को काफी महज़ में गैस मिल सकेगी। रसोई गैस की दस्त्याबी बढ़ाने के लिए 14 अजला में ब्रांच पाइपलाइन बिछेगी। इसके लिए गैस इंडिया लिमिटेड (गेल ) ने उत्तरप्रदेश के जगदीशपुर से हल्दिया तक पाइपलाइन बिछाने का फैसला लिया है। रियासत में पाइपलाइन बिछाने के लिए रियासती हुकूमत और गेल इंडिया के दरमियान होनेवाले एमओयू के फॉर्मेट को कब्याना ने बिहार में गैस मेरात को मंजूरी दे दी।

बरौनी खाद कारखाने को गैस

अजलास के बाद काबिना सेक्रेटरी ब्रजेश मेहरोत्र ने बताया कि गेल जगदीशपुर से हल्दिया तक 621 किमी लंबी पाइपलाइन बिछायेगी। यह बिहार के कैमूर, रोहतास, औरंगाबाद व गया होते हुए झारखंड की सरहद में दाखिल करेगी। गया से बरौनी के लिए एक ब्रांच पाइपलाइन बिछेगी, जो गया, पटना, नालंदा, शेखपुरा, लखीसराय होते हुए बेगूसराय के बरौनी तक जायेगी। इससे बरौनी खाद कारखाने को गैस मुहैया करायी जायेगी। बाद में बरौनी पेट्रो केमिकल कारखाने को भी गैस की फराहम की जायेगी।

14 अज़ला से गुजरेगी सिटी पाइपलाइन

इसके अलावा पटना समेत रियासत के दीगर 14 अज़ला में सिटी गैस पाइपलाइन बिछायी जायेगी, जिससे सीएनजी और एलपीजी की फराहम होगी। इसके अलावा रियासत में गैस बुन्याद थर्मल पावर की क़याम के लिए भी गैस की फराहम के लिए अलग से पाइपलाइन बिछेगी। मेहरोत्र ने बताया कि रियासती हुकूमत सिर्फ इसमें फैसिलेटेशन की किरदार निभायेगी। इसके लिए बिहार हुकूमत और गेल के दरमियान एमओयू पर दस्तख़त होंगे।

जंगली जानवरों के हमले से मुतासिरिन को मुआवजा
काबिना सेक्रेटरी ने बताया जंगली जानवरों के हमले से होनेवाली होने वाले नुकसान के लिए रक़म मुक़र्रर की है।मौत होने पर दो लाख, शदीद जख्मी होने पर 60 हजार व मामूली से ज़ख़्मी होने पर मुनासिब इलाज या 10 हजार रुपये दिये जायेंगे। पक्का मकान ख़राब होने पर 40 हजार, मिट्टी का मकान बर्बाद होने पर 20 हजार और खुसूसी तौर पर नुकसान होने पर पांच हजार रुपये दिये जायेंगे। भैंस, गाय और दीगर जानवरों की मौत होने पर 10 हजार रुपये दिये जायेंगे।

मेम्बरान की सिक्यूरिटी के लिए 551 ओहदा तशकील

मिशन मान मिशन के तहत तीन और वज्रा को शामिल किया गया है। इसमें देहि तरक्की वजीर, शहर तरक्की वजीर और पंचायती रियासत वजीर को शामिल किया गया है। कबीना ने रियासत के वज्रा, आरकिन, पार्लियामेंट, मेम्बरान असेंबली और कानून साज़ काउंसलर की सिक्यूरिटी और रेहाय्स प्रहरी के लिए 551 अज़फी ओहदों की तख्लिक़ की मंजूरी दी है। पटना ट्रैफिक डीएसपी से सबक्दोश हुए नरेश मोहन झा को फिर से ख़िदमत में लाया गया है। एसटीएफ के लिए 14 नये गाड़ी खरीदने का फैसला लिया गया है।

TOPPOPULARRECENT