Monday , December 18 2017

बिहार में ट्रेनों की डकैती में सिमी की मौलूस होने की खद्शा : भाजपा

बिहार में ओपोजीशन भाजपा ने आज कहा कि रियासत में हाल के दिनों में ट्रेन डकैती की वारदात में हुई इजाफे का ताल्लुक अगर बैन किए गए तंजीम सिमी से है तो रियासती हुकूमत को इसकी तहक़ीक़ात करनी चाहिए। बिहार एसेम्बली में ओपोजीशन के लीडर नंदकि

बिहार में ओपोजीशन भाजपा ने आज कहा कि रियासत में हाल के दिनों में ट्रेन डकैती की वारदात में हुई इजाफे का ताल्लुक अगर बैन किए गए तंजीम सिमी से है तो रियासती हुकूमत को इसकी तहक़ीक़ात करनी चाहिए। बिहार एसेम्बली में ओपोजीशन के लीडर नंदकिशोर यादव ने आज शून्यकाल के दौरान आज यह मामला उठाते हुए कहा कि रियासत में हाल के दिनों में ट्रेन डकैती की वारदात में हुई इजाफा का ताल्लुक अगर सिमी की ट्रेनों में डकैती के जरिए पैसे जमा करने से है तो रियासती हुकूमत को इसकी तहक़ीक़ात करनी चाहिए।

नंदकिशोर ने कहा कि नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान पटना में सिलसिलेवार बम धमाके और उससे पहले बोधगया में हुए सिलसिलेवार बम धमाके मामले में गिरफ्तार फैसल ने पूछताछ के दौरान यह खुलासा किया था कि सिमी दहशतगर्द अपनी सरगरमियों के लिए ट्रेनों में डकैती के जरिए पैसे इकट्ठा कर रहा है। मध्यप्रदेश के रहने वाले फैसल का ताल्लुक सिमी के बैंक डकैती के जरिए पैसे इकठ्ठा करने से है।

उसने पटना और बोधगया में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों को अंजाम देने के लिए हैदर अली उर्फ ब्लैक ब्यूटी को पैसा दस्तयाब कराया था। नंदकिशोर ने मांग की है कि ट्रेन डकैती मामले जिनका इंकशाफ कई सालों में भी नहीं हो पाता है, उसकी तरफ हुकूमत खुसुसि तवज्जो दे। दाखला महकमा के इंचार्ज वज़ीर विजय कुमार चौधरी ने कहा कि अगर ट्रेन डकैती मामलों का ताल्लुक दहशतगर्द से है तो यह संगीन मामला है। उस पर रोक के लिए कदम उठाए जाएंगे।

TOPPOPULARRECENT