Saturday , December 16 2017

बिहार में ठनका गिरने से 38 लोगों की मौत, कई लोग घायल

पटना। मंगलवार को तेज हवा के साथ हुई बारिश के दौरान पटना समेत प्रदेश के विभिन्न इलाकों में ठनका गिरने से 38 लोगों की मौत हो गयी, जबकि 25 से अधिक घायल हो गये। सबसे अधिक पटना जिले में पांच लोगों की जान चली गयी। इनमें बिहटा में तीन व नौबतपुर में दो लोगों की मौत हुई।

राज्य सरकार पीड़ित परिजनों के लिए चार-चार लाख का मुआवजा देने की घोषणा कर सकती है। नालंदा जिले में ठनके से चार लोगों की मौत हो गयी। चंडी थाने के कचहरिया के बेलदरिया टोला बारिश से बचने के लिए लोग एक झोंपड़ी में छिपे थे, तभी उस पर ठनका गिरने से तीन लोगों जितू बिंद, पप्पू बिंद और मोहन बिंद की मौत हो गयी, जबकि कचहरिया गांव में ठनके से संजीव कुमार की मौत हो गयी। पूर्वी बिहार में ठनके से 14 लोगों की मौत हो गयी व सात लोग घायल हो गये। सबसे ज्यादा पूर्णिया में चार लाेगों की मौत हो गयी। इसके अलावा सहरसा व कटिहार में तीन-तीन, मुंगेर में दो और मधेपुरा व किशनगंज में एक-एक व्यक्ति की जान गयी।

आरा के बड़हरा में ठनका गिरने से एक महिला की मौत हो गयी और एक महिल झुलस गयी, जबकि बक्सर में दो की मौत हो गयी।
कैमूर जिले में अलग-अलग जगहों पर ठनका गिरने से चार लोगों की मौत हो गयी और चार लोग जख्मी हो गये। मृतकों में तीन महिलाएं व एक युवक है। घायलों में भी दो महिलाएं, एक युवक व एक बच्ची है। रोहतास के नासरीगंज व कोचस प्रखंडों में पांच स्थानों पर ठनका गिरने से चार लोगों की मौत हो गयी है और आठ लोग जख्मी हो गये।

TOPPOPULARRECENT