Tuesday , December 12 2017

बिहार में भाजपा और जदयू इत्तिहाद के दरमियान कांटे की टक्‍कर : सर्वे

बिहार में 21 अगस्‍त को एसेम्बली के 10 सीटों पर जिमनी इंतिख़ाब होने हैं। इस इंतिख़ाब को लेकर सारे पार्टी अभी से अपना जोर लगाना शुरू कर दिया है। भाजपा इत्तिहाद और जदयू-राजद इत्तिहाद के दरमियान कांटे की टक्‍कर होने वाली है।

बिहार में 21 अगस्‍त को एसेम्बली के 10 सीटों पर जिमनी इंतिख़ाब होने हैं। इस इंतिख़ाब को लेकर सारे पार्टी अभी से अपना जोर लगाना शुरू कर दिया है। भाजपा इत्तिहाद और जदयू-राजद इत्तिहाद के दरमियान कांटे की टक्‍कर होने वाली है।

20 साल के तौविल वक्फ़े के बाद बिहार में भाजपा और जदयू एक दूसरे के मुखालिफत में इंतिख़ाब लड़ रहे हैं। हाल ही में लालू प्रसाद और नीतीश कुमार ने नरेंद्र मोदी को बिहार में हराने के लिए इत्तिहाद किया है। लालू और नीतीश अभी तक कई जगहों पर इंतिखाबी सभा कर चुके हैं।

इधर बिहार में आने वाले जिमनी इंतिख़ाब के मद्देनजर एबीपी न्‍यूज-चैनलस ने सर्वे किया है। इस ताजा सर्वे के मुताबिक भाजपा इत्तिहाद और जदयू-राजद इत्तिहाद के दरमियान कांटे की टक्‍कर होने वाली है। दोनों इत्तिहाद को चार-चार सीटें मिलने का अंदाज़ा लगाया जा रहा है,जबकि दो सीटें दीगर के खाते में जाती हुई दिख रही है। बिहार की 50 फीसद वोटरों के मुताबिक 10 सीटों पर भाजपा इत्तिहाद की जीत होगी,जबकि 44 फीसद वोटरों के मुताबिक जदयू-राजद इत्तिहाद की जीत होगी।

वजीरे आला की दौड़ में सुशील मोदी सबसे आगे

एबीपी न्‍यूज ने बिहार में वजीरे आला को लेकर भी सर्वे कराया गया है। इस सर्वे के मुताबिक वजीरे आला की दौड़ में सबसे आगे बिहार भाजपा के सदर सुशील कुमार मोदी चल रहे हैं। 43 फीसद लोगों ने वजीरे आला के तौर में सुशील मोदी को पसंद किया है। 28 फीसद लोगों की पसंद साबिक़ वजीरे आला नीतीश कुमार है,जबकि 17 फीसद लोगों ने लालू यादव को फिर से वजीरे आला के तौर में देखना चाहते हैं।

TOPPOPULARRECENT