Saturday , November 25 2017
Home / Kashmir / बिहार लेने पर कश्मीर देने की शर्त जस्टिस काटजू पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज

बिहार लेने पर कश्मीर देने की शर्त जस्टिस काटजू पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज

पटना : बिहार के संबंध में विवादास्पद टिप्पणी करने के मामले में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होने के बावजूद सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस मार्कंडेय काटजू ने राज्य के संबंध में एक बार फिर भड़काऊ बयान देते हुए बिहार के लोगों को संयुक्त राष्ट्र में शिकायत दर्ज कराने की सलाह दिया|

काटजू ने सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर लिखा ” मैं सलाह देता हूँ कि उनके खिलाफ बिहारी संयुक्त राष्ट्र में शिकायत करें। उन्होंने कहा कि जब द्रोपदी का चीर हरन किया जा रहा था तो उसने अपने बचाव के लिए भगवान श्री कृष्ण से प्रार्थना की थी। एक अन्य पोस्ट में उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के माई बाप के बयान पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह बिहारियों के माई बाप नहीं हैं लेकिन शकोनि मामा ज़रूर हैं। ” इससे पहले आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर राजधानी पटना के शास्त्री नगर थाना में सत्तारूढ़ जेडीयू के विधान और प्रवक्ता नीरज कुमार ने एफआईआर दर्ज कराई है।

एफआईआर भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए 153 बी ‘505 (2) के साथ आईटी एक्ट की धारा 66 के तहत मामला दर्ज कराया गया है। इसका सीधा मतलब है कि पूर्व न्यायाधीश काटजू के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है वरमान श्री कुमार ने याचिका में कहा था कि काटजू के विवादित बयान राष्ट्रीय एकता को कमजोर करने वाले भाषा में है और बिहारियों के ते देवताओं नफरत अभिव्यक्ति है .. अपने मतनाज़ रूप बयानों के लिए मशहूर काटजू ने इस बार कश्मीर के मामले में टिप्पणी की है। अपने फेसबुक पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि पाकिस्तान के लोग आइए और कश्मीर विवाद का मिलकर हल करते हैं। उन्होंने आगे लिखा कि एक शर्त पर हम आपको कश्मीर देंगे ‘इसके साथ आप बिहार भी लेना होगा। यह एक पैकेज डील है।

TOPPOPULARRECENT