Monday , December 18 2017

बिहार लोक आयुक्त बिल 2011 गवर्नर की मंज़ूरी

पटना,०४ दिसम्बर: (पी टी आई) बहार लोक एवकत बिल 2011-ए-जो चीफ़ मिनिस्टर और वुज़रा को अपने दाइरा-ए-कार में ले आएगा, उसे रियास्ती गवर्नर की जानिब से मंज़ूरी दे दी गई, जिस ने आइन्दा हफ़्ते रियास्ती मुक़न्निना में उसे मुतआरिफ़ किए जाने की राहें हमवा

पटना,०४ दिसम्बर: (पी टी आई) बहार लोक एवकत बिल 2011-ए-जो चीफ़ मिनिस्टर और वुज़रा को अपने दाइरा-ए-कार में ले आएगा, उसे रियास्ती गवर्नर की जानिब से मंज़ूरी दे दी गई, जिस ने आइन्दा हफ़्ते रियास्ती मुक़न्निना में उसे मुतआरिफ़ किए जाने की राहें हमवार कर दी हैं।

गवर्नर देवानंद कंवर ने अपनी मंज़ूरी कल रात दी, राज भवन ज़राए ने यहां पी टी आई को ये बात बताई। रियास्ती हुकूमत ने 30 नवंबर को चीफ़ मिनिस्टर नतीश कुमार की ज़ेर-ए-सदारत मुनाक़िदा एक का बीनी इजलास में ये बिल मंज़ूर किया था।

रियास्ती हुकूमत ने बादअज़ां ऑल पार्टी मीटिंग तलब की जिस में अपोज़ीशन पार्टीयों ने इस बल की मंज़ूरी में उजलत की ज़रूरत पर सवाल उठाए और कहा कि उसे बतौर क़ानून नाफ़िज़ करने से क़बल मुबाहिस होना चाहियॆ।

टीम अन्ना मॆम्बर्स जैसे शांति भूषण और अरविंद कजरीवाल ने भी नाराज़गी ज़ाहिर की थी और उसे कमज़ोर और मर्कज़ के लोक पाल बल का अक्स क़रार दिया था।

TOPPOPULARRECENT