बिहार- ‘सनी लियोन’ ने जूनियर इंजीनियर की मेरिट लिस्ट में किया टॉप !

बिहार- ‘सनी लियोन’ ने जूनियर इंजीनियर की मेरिट लिस्ट में किया टॉप !
NEW DELHI, INDIA - JUNE 5: Bollywood actor Sunny Leone during an exclusive interview to promote Indian television reality show MTV Splitsvilla during Stars in the city series run by HTCity, on June 5, 2014 in New Delhi, India.. (Photo by Waseem Gashroo/Hindustan Times via Getty Images)

बॉलीवुड अभिनेत्री सनी लियोन अगर कहीं नौकरी करने के लिए आवेदन करें और उसमें अव्वल स्थान ले आएं तो आपको आश्चर्य होगा. परंतु, यह सौ प्रतिशत सच है. बिहार राज्य लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग (पीएचईडी) में सहायक अभियंता (जेई) के लिए संविदा पर नियुक्ति के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए थे, जिसमें सनी लियोन अव्वल आई हैं. पीएचईडी के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि मेरिट लिस्ट में सनी लियोन अव्वल आई हैं, जिसने कुल 98.5 अंक (प्वाइंट) हासिल किए हैं. सनी को एजुकेशन (शिक्षा) प्वाइंट में 73.50 अंक मिले हैं और एक्सपेरिएंस (अनुभव) प्वाइंट के रूप में 25 अंक प्राप्त हुए. इससे पहले कि आप समझें कि ये वाकई बॉलीवुड वाली सनी हैं, हम बता दें कि ये वो नहीं हैं. किसी ने उनके नाम से आवेदन कर दिया. इसकी जांच की जा रही है.

उल्लेखनीय है कि 214 सिविल इंजीनियर के पदों के लिए संविदा पर नियुक्ति के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए थे, जिसमें सहायक अभियंताओं से ऑनलाइन आवेदन जमा करवाए गए थे. वैसे, अव्वल स्थान लाने वाली सनी लियोन की जन्मतिथि 13 मई, 1991 है, जिनके पिता का नाम लियोना लियोन है. यही नहीं इस परिणाम में तीसरे स्थान पर आने वाले का भी नाम अजीब है. मेरिट लिस्ट में तीसरे नंबर पर बीवीसीएक्सजेड नामक अभ्यर्थी है, जिसने 92.89 स्कोर किया है.

पीएचइडी के एक अधिकारी ने बताया, “संविदा पर सिविल जूनियर इंजीनियरों के चयन का आधार आम परीक्षाओं से अलग तय किया गया था, जिसमें जमा किए गए प्रमाणपत्रों के आधार पर अंकों का आकलन कर ऑनलाइन सिस्टम द्वारा ही स्कोर (अंक) तैयार हो जाता है.” विभाग के संयुक्त सचिव अशोक कुमार ने बुधवार को बताया कि ऑनलाइन आवेदन में कई लोग गलत निबंधन कर आवेदन पत्र भर देते हैं, जिससे विभाग को परेशानी होती है. उन्होंने कहा, “इस मेरिट लिस्ट के बाद इस पर दावा और आपत्ति के लिए 24 फरवरी तक का समय दिया गया है. दावा, आपत्ति आने के बाद लिस्ट को एक बार फिर से जारी किया जाएगा और अंतिम सूची में दर्ज आवेदकों को प्रमाणपत्र जांच के लिए बुलाकर अंतिम तौर पर चयन किया जाएगा.’

Top Stories