Monday , January 22 2018

बीजेपी अपनी मां ‘आरएसएस’ से पहले पुछ ले, मुसलमानों की बात करें या नहीं- मीम अफजल

नई दिल्‍ली। कांग्रेस के सीनियर नेता मीम अफजल ने प्रधानमंत्री के उस बयान पर अपनी राय दी जो केरल में मुसलमानों पर कही गई थी। कांग्रेस नेता मीम अफजल ने कहा, यह नौटंकी सिर्फ यूपी चुनावों के लिए हो रही है। मोदी कभी भी मुसलमानों को पार्टी से नहीं जोड़ पाएंगे मुसलमानों की बात करने वाली भाजपा पहले अपनी मां आरएसएस से तो पूछ ले कि मुसलमानों की बात करें या नहीं। आज प्रधानमंत्री मोदी वही कर रहे हैं जिसके लिए वो आजतक कांग्रेस को कोसते आए हैं। केंद्र में बैठी सरकार पहले इस बात का जबाव दे कि अल्‍पसंख्‍यकों की योजनाओं का बजट क्‍यों कम किया गया है।

कोझीकोड केरल में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी का बयान कि मुसलमानों को वोटों की मंडी न बनाओ और उसके बाद मुस्‍लिम पंचायतों की शुरुआत। मोदी के इस कदम पर चुटकी लेते हुए कांग्रेस प्रवक्‍ता मीम अफजल का कहना है कि मोदी और भाजपा दोनों हमेशा से मुसलमानों की हालत को लेकर कांग्रेस को कोसते रहे हैं। लेकिन मैं पूछता हूं कि आज मोदी क्‍या कर रहे हैं। पहले तो केंद्र में चलने वाली अल्‍पसंख्‍यक योजनाओं का बजट कम कर दिया। एक भी योजना जमीन पर नहीं दिखाई दे रही है। उस पर मोदी बयान दे रहे हैं कि मुसलमानों को वोटों की मंडी मत बनाओ।

कांग्रेस नेता मीम अफजल ने कहा कि अगर मोदी मुसलमानों को वोटर के रूप में नहीं देखते हैं तो यूपी चुनावों से ठीक पहले मुस्‍लिम पंचायत की कैसे याद आ गई। पंचायत के बहाने आप मुसलमानों के विकास की बात करते हैं तो पहले अल्‍पसंख्‍यकों की योजनाओं का पूरा बजट ही दे दीजिए। प्रधानमंत्री ने घोषणा की थी कि वह दो करोड़ नौकरियां देंगे, लेकिन हुआ क्‍या, अभी तक केंद्र में सिर्फ दो लाख नौकरियां दी गई हैं। मुसलमान सब जानता है कि कौन उनका दोस्‍त और कौन दुश्‍मन है।

TOPPOPULARRECENT