Saturday , December 16 2017

बीजेपी को उम्मीद, साथ नहीं छोड़ेंगे नीतीश

नई दिल्ली, 19 मार्च: आइंदा लोकसभा इलेक्शन के लिए बिहार के वज़ीर ए आला नीतीश कुमार के किंग मेकर बनने के इरादों के बावजूद बीजेपी को उम्मीद है कि जनता दल यूनाइटेड के साथ दोस्ती नहीं टूटेगी। बीजेपी ने कहा कि नीतीश के उठाए मुद्दों से वह प

नई दिल्ली, 19 मार्च: आइंदा लोकसभा इलेक्शन के लिए बिहार के वज़ीर ए आला नीतीश कुमार के किंग मेकर बनने के इरादों के बावजूद बीजेपी को उम्मीद है कि जनता दल यूनाइटेड के साथ दोस्ती नहीं टूटेगी। बीजेपी ने कहा कि नीतीश के उठाए मुद्दों से वह पूरी तरह से सहमत है।

एनडीए के तौसीअ की कोशिश में जुटी बीजेपी के लिए रामलीला मैदान में दिखे नीतीश के तेवर इशारे अच्छे नहीं हैं। इसके बावजूद बीजेपी का मानना है कि नीतीश किसी भी हालत में एनडीए से बाहर नहीं जाएंगे।

पार्टी के तरजुमान रविशंकर प्रसाद ने कहा कि नीतीश हंगामी दौर के खिलाफ एहतिजाज के पैदावार हैं, उनका पूरा सयासी ज़िदगी कांग्रेस की मुखालिफत में बीती है।

दरअसल, बीजेपी नीतीश के एनडीए में बने रहने को लेकर इसलिए भी मुतमईन है कि इत्तेहद टूटने पर बिहार में दोनों को नुकसान होगा। अकेले बीजेपी ही नहीं बल्कि जदयू को भी खामियाजा उठाना पड़ेगा।

इसके अलावा बीजेपी यह भी मान रही है कि कांग्रेस के साथ लालू प्रसाद यादव और रामविलास पासवान पहले से ही जमे हैं। ऐसे में नीतीश कुछ अक्लियतो के वोटों के लिए लालू और पासवान के साथ कांग्रेस के पाले में शायद ही खड़े होंगे।

इसलिए बीजेपी ने नीतीश के उठाए मुद्दों की ताइद करते हुए कहा कि मरकज़ी हुकूमत शुरू से बिहार के साथ ही मगरिबी बंगाल समेत सभी गैर कांग्रेस व गैर यूपीए हुकूमतों के साथ भेदभाव करती रही है।

नीतीश की रैली से बीजेपी के अलग रहने पर प्रसाद ने कहा कि जदयू अलग पार्टी है, उनकी इस रैली को लेकर चार-पांच माह पहले ही ऐलान हो चुका था।

TOPPOPULARRECENT