बीजेपी को हराने के लिए जहां गठबंधन की जरूरत होगी, किया जायेगा- कांग्रेस

बीजेपी को हराने के लिए जहां गठबंधन की जरूरत होगी, किया जायेगा- कांग्रेस

ऐतिहासिक ‘दांडी मार्च’ की वर्षगांठ पर पीएम मोदी के गृहराज्य गुजरात में कार्यसमिति की बैठक आयोजित कर कांग्रेस ने अपने लोकसभा चुनाव अभियान का आगाज कर दिया है।

साबरमती आश्रम में सरदार पटेल के स्मारक स्थल के करीब आयोजित कार्यसमिति की इस बैठक में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी शामिल हुईं।

बैठक में महात्मा गांधी और उनके अहिंसा एवं सहिष्णुता के आदर्शों को याद करते हुए रोजगार, किसानों की समस्या और अर्थव्यवस्था पर राजनीतिक प्रस्ताव भी पास किया गया।

कार्यसमिति में बड़ा फैसला लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को सर्वसम्मति से बीजेपी को हराने के लिए प्रमुख राज्यों में समान विचारधारा वाली पार्टियों के साथ गठबंधन पर फैसला लेने के लिए अधिकृत कर दिया गया।

इसके बाद बैठक में देश के विभिन्न मुद्दों और मोदी सरकार की नीतियों पर एक राजनीतिक प्रस्ताव पास किया गया। प्रस्ताव में दांडी मार्च की 89वीं वर्षगांठ पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, पंडित जवाहर लाल नेहरू और सरदार वल्लभ भाई पटेल को याद करते हुए देश की स्वतंत्रता आंदोलन में शामिल सभी राष्ट्र नायकों को श्रद्धांजलि दी गई।

पुलवामा आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए आतंकी हमले की कड़ी निंदा करते हुए प्रस्ताव में कहा गया कि कांग्रेस देश के सैनिकों और सशस्त्र बलों के साथ एकजुट है और राष्ट्रीय संकट की घड़ी में कांग्रेस हमेशा सरकार के साथ खड़ी है। प्रस्ताव में प्रधानमंत्री द्वारा राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे का घिनौने तरीके से शोषण करने की कड़ी निंदा की गई।

मोदी सरकार के पांच साल के कार्यकाल को झूठे वादों और जनता के विश्वास और भरोसे के साथ धोखे का दौर करार देते हुए प्रस्ताव में जीएसटी और नोटबंदी की चर्चा करते हुए कहा गया कि सरकार के फैसलों की वजह से लाखों लोग बेरोजगार हुए और अर्थव्यवस्था पटरी से उतर गई। प्रस्ताव में कहा गया कि अगर कांग्रेस पार्टी सत्ता में आई तो देश के युवाओं और अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए काम करेगी।

इससे पहले कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी इस समय मुद्दे को भटकाने का काम कर रही है, लेकिन हमें उनके जाल में नहीं फंसना है।

नवजीवन पर छपी खबर के अनुसार, उन्होंने कहा कि कांग्रेस लगातार रोजगार, किसान और अर्थव्यवस्था का मुद्दा उठाती रहेगी। वहीं, कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में पहली बार शामिल हुईं महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि इस बार सरकार कांग्रेस की ही बनेगी।

इससे पहले बैठक को संबोधित करते हुए यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला किया। उन्होंने कहा कि पीएम खुद को पीड़ित बताने का दाव खेल रहे हैं, लेकिन सच्चाई ये है कि लोग प्रताड़ित हैं।

पुलवामा हमले का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि राजनीतिक फायदों के लिए इस सरकार में आतंकी हमलों का राजनीतिकरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय हित के साथ समझौता कर राजनीति की जा रही है

इस मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि इस समय लोगों को यूपीए सरकार की उपलब्धियां बताने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार झूठा प्रचार कर रही है। इस सरकार की नीतियों की वजह से अर्थव्यवस्था बुरी तरह गिर गई है।

Top Stories