बीजेपी सांसद का बयान, 5 साल में इतनी नौकरियां होंगी कि अमेरिका और लंदन वाले यहां आएंगे

बीजेपी सांसद का बयान, 5 साल में इतनी नौकरियां होंगी कि अमेरिका और लंदन वाले यहां आएंगे

इंडिया टुडे ग्रुप द्वारा आयोजित ओडिशा के भुवनेश्वर में ‘माइंड रॉक्स’ कार्यक्रम आयोजित किया. माइंड रॉक्स के पॉलिटिक्स ऑफ 2019-मेकिंग टफ च्वाइस सत्र में बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने कहा कि आने वाले 5 साल में देश में इतनी नौकरियां होंगी कि अमेरिका और लंदन से लोग भारत में नौकरी करने आएंगे.

माइंड रॉक्स के इस सत्र में बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे के साथ-साथ कांग्रेस नेता सुष्मिता देव और बीजेडी नेता कलिकेश सिंह देव शामिल हुए. यह कार्यक्रम भुवनेश्वर के केआईआईटी (KIIT) ऑडिटोरियम में आयोजित हुआ.

युवाओं को नौकरी देने के सवाल पर निशिकांत दुबे ने कहा कि यूपीए सरकार के दौरान देश की ग्रोथ रेट 4.6 थी और आज मोदी सरकार के दौरान  7.2 फीसदी की ग्रोथ है. कांग्रेस ने अपने कार्यकाल में अपने चहेते उद्योगपतियों को 15 लाख करोड़ रुपए बांट दिए, जिससे देश में NPA की दिक्कतें खड़ी हो गई. इन्होंने देश के खजाने को पूरी तरह से खाली कर दिया था.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने रोजगार के नाम पर मनरेगा शुरू किया, जिसमें 50 से 60 फीसदी भ्रष्टाचार हुआ. ये जो भूमि अधिग्रहण बिल लेकर आए, उसके तहत 3-4 साल लग जाते हैं भूमि अधिग्रहण करने में. मोदी सरकार रोड बनवा रही हैं, पोर्ट बनाए जा रहे हैं और बंद फैक्ट्रियां शुरू की जा रही हैं. ओडिशा के तलचर और यूपी के गोरखपुर में खाद कारखाना शुरू किया गया.

साभार- आजतक

निशिकांत दुबे ने कहा,’देखिएगा कि आने वाले पांच सालों में देश में इतनी नौकरियां होंगी कि इन बच्चों को मिलने के साथ-साथ अमेरिका और लंदन के लोग भी भारत में रोजगार के लिए आएंगे.’

हालांकि कांग्रेस नेता सुष्मिता देव ने कहा कि मोदी सरकार बेरोजगारी की चुनौती से बैकफुट पर चली गई है. इसलिए वह ऐसे समय में सवर्णों के लिए आरक्षण का मुद्दा लेकर आई है. जबकि मोदी सरकार ने हर साल 2 करोड़ युवाओं को नौकरी देने का वादा किया था.

बीजेडी नेता कलिकेश ने कहा कि सबको उसकी मेरिट के आधार पर आंका जाना जरूरी है, हालांकि सभी को समान अवसर देने के लिए जरूरी है कि आरक्षण के जरिए संतुलन बनाया जाए. भविष्य में 100 फीसदी मेरिट आधारित व्यवस्था के लिए बेहद जरूरी है कि सबको एक क्वॉलिटी शिक्षा दी जाए.

Top Stories