Saturday , December 16 2017

बीजेपी सांसद का विवादित बयान, कचरे से की गांधी और नेहरु की तुलना

बीजेपी के सांसद, विधायक कुछ न कुछ विवादास्पद टिप्पड़ी के लिए जाने जाते हैं| अभी कुछ दिन पहले सरधना विधायक संगीत सोम ने ताजमहल पर टिप्पड़ी की थी| जिसके बाद उनकी काफी आलोचना की गयी| अब एक नया मामला सामने आया है| असम जोरहाट से बीजेपी सांसद कामाख्या प्रसाद तासा ने गांधी और नेहरु पर टिप्पड़ी की है| कांग्रेस ने पुलिस में लिखित शिकायत दर्ज़ की है|

कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी सांसद ने गांधी और नेहरु की तुलना कचरे से की है| कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी सांसद कामाख्या प्रसाद ने शनिवार को एक रैली में कथित रूप से कहा था कि कांग्रेस ने दीन दयाल उपाध्याय के आदर्शों को नजरअंदाज किया और लोगों के दिमाग में गांधी-नेहरू का कचरा भर दिया।

इस रैली में असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल भी मौजूद थे। हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक तासा ने कथित रूप से बयान दिया है कि ‘कांग्रेस ने लोगों के दिमाग को गांधी और नेहरू जैसे लोगों के कचरे से धो डाला और इन लोगों ने दीनदयाल उपाध्याय के आदर्शों को जानने की कोशिश भी नहीं की। इस बयान के बाद भड़के कांग्रेसी कार्यकर्ता ने सांसद के ख़िलाफ़ जमकर विरोध प्रदर्शन किया और उनका पुतला जलाया| कांग्रेसियों ने संसद से उनकी बर्खास्तगी की मांग की।

असम कांग्रेस के अध्यक्ष रिपुन बोरा ने कहा कि ये विवादित बयान हमारे देश के  अपमान के साथ साथ एक गंभीर अपराध भी है| जिसके लिए सज़ा ज़रूर मिलनी चाहिए| कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई ने भी इस बयान की निंदा की। गौरव गोगोई ने ट्वीट के ज़रिये कहा कि बीजेपी सांसद कामाख्या प्रसाद तासा द्वारा पंडित नेहरू और गांधी की तुलना कचरे से करना निंदनीय है और इसके लिए उन्हें सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।

 

शरीफ़ उल्लाह

TOPPOPULARRECENT