Thursday , January 18 2018

बीजेपी से नाराज वोटर्स को अपनी तरफ करने के लिए अखिलेश ने बनाई तरकीब

उत्तर प्रदेश: यूपी विधनसभा चुनाव में मुख्यमंत्री अखिलेश के साथ परंपरागत समर्थक तो हमेशा की तरह उनका साथ देंगे ही। लेकिन इन विधानसभा चुनावों में अखिलेश बीजेपी के समर्थकों पर चोट मारने की तरकीब बना रहे हैं।

बीजेपी के वोटरों को पटाने के लिए अखिलेश यादव रणनीति तैयार कर रहे हैं। साल 2014 में लोकसभा चुनाव में युवाओं का बड़ा तबका मोदी के विकासवादी प्लान के चलते बीजेपी के साथ था जिससे बीजेपी को काफी फायदा भी पहुंचा था। गौरतलब है कि पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले के कारण लोगों की कामकाज ठप हो गए और नौकरियां छूट गई।

जिसके कारण आम जनता काफी परेशान है और और बेरोजगारी के मसले पर सरकार द्वारा कुछ न करने के कारण युवा भी बीजेपी से नाराज है। दूसरी तरफ काम करने वाले मुख्यमंत्री अखिलेश की छवि कुछ हद तक मददगार भी रहेगी। अखिलेश ने इस बार पार्टी में किसी दलाल, भ्रष्ट और गुंडा तत्वों की सपा में कोई जगह नहीं दी है। यह युवाओं को आकर्षित करने के लिए बेहतर साबित हो सकता है।

कांग्रेस के साथ गठबंधन कर अखिलेश मुस्लिम मतदाताओं को यह संदेश देना चाहते हैं कि प्रदेश में सपा और केंद्र में कांग्रेस उनके लिए हमेशा आगे करेगा। जिससे मुस्लिम वोटर्स का बसपा के प्रति रुझान कम हो सकता।

TOPPOPULARRECENT