Monday , December 18 2017

बीवी का नाम छिपाने के लिए मोदी के खिलाफ केस का मामला अदालत में पहुंचा

वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी की तरफ से अपनी बीवी की इत्तेला/मालूमात छिपाने का मुतनाज़ा थमने का नाम नहीं ले रहा है | अहमदाबाद की एक अदालत में इस पर 12 जून को बहस शुरू होगी |

वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी की तरफ से अपनी बीवी की इत्तेला/मालूमात छिपाने का मुतनाज़ा थमने का नाम नहीं ले रहा है | अहमदाबाद की एक अदालत में इस पर 12 जून को बहस शुरू होगी |

आम आदमी पार्टी के लीडर निशांत वर्मा ने अहमदाबाद की एक निचली अदालत से मोदी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने को लेकर गुहार लगाई है | निशांत ने अपनी अर्जी में कहा कि मोदी ने 2012 के विधानसभा इंतेखाबात के दौरान दाखिल अपने हल्फनामे में अपनी बीवी का नाम छिपाया था और इसलिए उनके खिलाफ केस दर्ज किया जाए |

आपको बता दें कि अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने 21 मई को एक रिपोर्ट सौंपी थी जिसमें कहा था कि मोदी ने अपने हल्फनामे में बीवी का नाम नहीं देकर कोई संगीन ज़ुर्म नहीं किया है |

वर्मा ने पहले अहमदाबाद के रनीप पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराने की कोशिश की थी, लेकिन पुलिस ने इनकार कर दिया | इसके बाद उन्होंने कोर्ट का दरवाज़ा खट्खटाया है |

आपको बता दें कि मोदी ने इस साल जब वडोदरा लोकसभा सीट से अपना इंदिराज़ (Enrollment) दाखिल किया तो उन्होंने पहली मरतबा बीवी के कॉलम में जशोदाबेन का नाम लिखा | इससे पहले जितने भी इलेक्शन में मोदी ने नोमिनेशन फार्म भरा बीवी के नाम का कॉलम खाली छोड़ देते थे |

वर्मा की दलील है कि मोदी के खिलाफ ग़लत इत्तेला देने के लिए केस दर्ज किया जाए |

——बशुक्रिया: एबीपी न्यूज़

TOPPOPULARRECENT