Tuesday , June 19 2018

बीवी को फांसी देकर हलाक करने का वाक़िया

निज़मबद्:09 दॆसमबर( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़)ख़ानदानी इख़तिलाफ़ात की बिना पर एक शख़्स ने अपनी बीवी को फांसी देकर हलाक करदिया ये वाक़िया कल ज़िला निज़ाम आबाद आरमोर मंडल के प्रकट में पेश आया। तफ़सीलात के बमूजब निज़ाम आबाद हिताय गली की साक

निज़मबद्:09 दॆसमबर( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़)ख़ानदानी इख़तिलाफ़ात की बिना पर एक शख़्स ने अपनी बीवी को फांसी देकर हलाक करदिया ये वाक़िया कल ज़िला निज़ाम आबाद आरमोर मंडल के प्रकट में पेश आया। तफ़सीलात के बमूजब निज़ाम आबाद हिताय गली की साकन फ़िर्दोस बेगम और ज़हीर उद्दीन 10 साल क़बल रोज़गार की ग़रज़ से आरमोर मुंतक़िल होगए थे और आरमोर के ज़राअत नगर की एक मस्जिद के क़रीब किराया के मकान में मुक़ीम थी। ज़हीर उद्दीन आरमोर के मामड़ी पली मैं डीलिटिंग का काम किया करता है और मियां बीवी के दरमयान हमेशा झगड़े हुआ करते थे ।

शौहर की नाराज़गी से फ़िर्दोस बेगम अपने मीका में रह रही थी । सरपरस्तों की जानिब से समझा बुझा कर इन दोनों के मसाइल को हल करवाया गया था और कल भी इन दोनों के दरमयान रोज़ की तरह झगड़ा हवाओर ज़बरदस्त तनाव पैदा होगया। ग़ुस्सा में ज़हीर उद्दीन ने अपनी बीवी को ओढ़नी से फांसी दे दी और अपने तीनों बच्चों को लेकर पुलिस स्टेशन पहुंच कर अपनी बीवी को फांसी देने का एतराफ़ किया। इत्तिला मिलते ही डी एस पी नरसिम्हा, सर्किल इन्सपैक्टर कुशा लकर मुक़ाम हादिसा पर पहुंच कर मुहल्ला वालों से तफ़सीलात हासिल की और इस केस को दर्ज करते हुए तहक़ीक़ात का आग़ाज़ करदी

TOPPOPULARRECENT