Wednesday , January 17 2018

बीवी से जबरदस्ती सेक्स करना भी जुर्म: मेनका

नई दिल्ली: बीवी यानी शरीक ए हयात से जबरदस्ती जिन्सी ताल्लुकात बनाना यानी सेक्स करना जुर्म है, क्योंकि यह किसी न किसी तौर पर खातून के खिलाफ ज़ुल्म है।

नई दिल्ली: बीवी यानी शरीक ए हयात से जबरदस्ती जिन्सी ताल्लुकात बनाना यानी सेक्स करना जुर्म है, क्योंकि यह किसी न किसी तौर पर खातून के खिलाफ ज़ुल्म है।

और यह कहना है मरकज़ी ख्वातीन व बच्चो की तरक्कियाती की वज़ीर मेनका गांधी का। अपनी पार्टी से अलग राय रखते हुए मेनका गांधी ने कहा कि अज़दवाजी आबरूरेज़ी यानी Marital rape से मतलब किसी मर्द का बीवी पर ताकत का इस्तेमाल करने से है।

मेनका ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा कि मेरी राय में ख्वातीन के खिलाफ ज़ुल्म सिर्फ अनजान लोगों तक महदूद ना रहे। उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है कि अकसर अज़दवाजी आबरूरेज़ी यानी Marital rape मर्द की जिंसी ताल्लुकात यानी Sex की जरूरत की वजह से होता है।

उनकी यह राय हुकूमत के इस ख्याल के बरअक्स है कि हिंदुस्तान में अज़दवाजी आबरूरेज़ी यानी Marital rape के इल्ज़ाम का मआशरे यानी समाज की नौवियत वअकायद (Nature and assumptions) के सबब ताईद नहीं किया जा सकता। इससे पहले मेनका ने दहेज मुखालिफ कानून में मौजूज़ा तरमीम की भी मुखालिफत की थी । ऐसे मामलों को संजीदगी से लेना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT