Saturday , August 18 2018

बीस अरब ममालिक के सफ़ीरों की गडकरी से मुलाक़ात

नई दिल्ली, ०९ नवंबर (पीटीआई) बीस अरब ममालिक के सफ़ीरों ने सदर बी जे पी नितिन गडकरी से मुलाक़ात करके आइन्दा पारलीमानी इजलास के लिए उनकी पार्टी के मंसूबे पर तबादला-ए-ख़्याल किया। ये एक दाख़िली और ख़ारिजी उमूर (External Affairs) का एजंडा है। गडकरी ने

नई दिल्ली, ०९ नवंबर (पीटीआई) बीस अरब ममालिक के सफ़ीरों ने सदर बी जे पी नितिन गडकरी से मुलाक़ात करके आइन्दा पारलीमानी इजलास के लिए उनकी पार्टी के मंसूबे पर तबादला-ए-ख़्याल किया। ये एक दाख़िली और ख़ारिजी उमूर (External Affairs) का एजंडा है। गडकरी ने सफ़ीरों से दरयाफ्त किया कि अगर वो बरसर-ए-इक़तिदार (शासन) में आ जाएं तो आलिम अरब और हिंदूस्तान के पड़ोसीयों जैसे ताल्लुक़ात बरक़रार रहेंगे।

बर्तानिया और अमेरीका की जानिब से चीफ़ मिनिस्टर गुजरात नरेंद्र मोदी से रब्त पैदा करने के फ़ौरी बाद अरब सफ़ीरों की गडकरी से मुलाक़ात वाज़िह तौर पर बी जे पी के बारे में बैरूनी ( विदेशी) ममालिक के रवैय्या में तबदीली का इज़हार होता है। ये तबदीलीयां एक ऐसे वक़्त मंज़र-ए-आम पर (सबके सामने) आई हैं जबकि गुजरात में अनक़रीब असेंबली इंतिख़ाबात मुक़र्रर है।

इससे अंदाज़ा होता हीका बैन-उल-अक़वामी (अंतर्राष्ट्रीय) बिरादरी दाएं बाज़ू की पार्टी को क़बूल करने और यहां पर सरमाया कारी ( निवेश) में इज़ाफ़ा करने के इशारे दे रही हैं।

TOPPOPULARRECENT