Wednesday , December 13 2017

बी एस एफ़ को सरहद पर फैंसिंग की इजाज़त

हिंद-बंगला सरहद पर ख़ैरसगाली का मुज़ाहरा करते हुए बंगलादेश के सरहदी गार्ड ने बी एस एफ़ को बैनुल-अक़वामी सरहद पर 150 गज़ तक फैंसिंग करने की इजाज़त दे दी है जोकि दोनों ममालिक के दरमयान सरहदी मुआहिदा के बरअक्स तसव्वुर किया जा रहा है।

हिंद-बंगला सरहद पर ख़ैरसगाली का मुज़ाहरा करते हुए बंगलादेश के सरहदी गार्ड ने बी एस एफ़ को बैनुल-अक़वामी सरहद पर 150 गज़ तक फैंसिंग करने की इजाज़त दे दी है जोकि दोनों ममालिक के दरमयान सरहदी मुआहिदा के बरअक्स तसव्वुर किया जा रहा है।

बी एस एफडी आई जी डी एस रावत ने आज कहा कि सरहदी गार्ड्स आफ़ बंगलादेश (डी जी बी) ने अपने हम मंसब बी एस एफ़ को बैनुल-अक़वामी सरहद पर ज़ीरो लाईन से 125 गज़ तक मुक़ामात पर फैंसिंग तामीर करने की इजाज़त दी है जहां ख़ारदार अशिया और क़ुदरती रुकावटें पाई जाती हैं। हम उसे अपने हम मंसब गार्ड्स के साथ ख़ैरसगाली का इक़दाम समझते हैं।

सरहदी मुआहिदा के मुताबिक़ जोकि 1975 में दोनों ममालिक के सरहदी गार्ड्स के दरमयान अंजाम पाया था, उस में कहा गया है कि बैनुल-अक़वामी सरहद पर 150 गज़ के दरमयान किसी भी किस्म की मुस्तक़िल तामीरी स्ट्रकचर क़ायम नहीं किया जा सकता है। इसके बरख़िलाफ़ बंगलादेश सरहदी गार्ड्स ने दोनों ममालिक के दरमयान ताल्लुक़ात बेहतर बनाने के तहत बैनुल-अक़वामी सरहद पर मतलूबा मुक़ाम पर फैंसिंग की इजाज़त दे दी है।

TOPPOPULARRECENT