Friday , December 15 2017

बी जे पी के बगै़र येदि यूरप्पा का मुस्तक़बिल ( भविष्य) तारीक (अंधेरा): गोड्डा

मडीकीरी (तमिलनाडू), १६ अक्टूबर (पी टी आई) कर्नाटक के साबिक़ वज़ीर-ए-आला सदानंद ने आज एक अहम ब्यान देते हुए कहा कि अगर सीनीयर पार्टी क़ाइद ( लीडर) बी एस येदि यूरप्पा बी जे पी छोड़कर कोई और सयासी पार्टी क़ायम (संगठित/ निर्माण) करते हैं तो

मडीकीरी (तमिलनाडू), १६ अक्टूबर (पी टी आई) कर्नाटक के साबिक़ वज़ीर-ए-आला सदानंद ने आज एक अहम ब्यान देते हुए कहा कि अगर सीनीयर पार्टी क़ाइद ( लीडर) बी एस येदि यूरप्पा बी जे पी छोड़कर कोई और सयासी पार्टी क़ायम (संगठित/ निर्माण) करते हैं तो इससे बी जे पी के सयासी मौक़िफ़ पर कोई मनफ़ी ( नकारात्मक) असर नहीं पड़ेगा।

यहां से 40 कीलोमीटर के फ़ासले पर वाक़्य ( स्थित) भागा मंडला में मीडीया के नुमाइंदों ( पत्र्कारो) से ख़िताब करते हुए मिस्टर गोड्डा ने कहा कि यदि यूरप्पा अगर बी जे पी से ख़ारिज ( अलग ) होकर नई सयासी पार्टी तशकील ( निर्माण/ बना) देते हैं तो इससे बी जे पी मुतास्सिर ( प्रभावित) नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि ये बात पूरा मुल्क जानता है कि बी जे पी को छोड़ने के बाद कोई भी क़ाइद ( लीडर/ नेता) सयासी तौर पर तरक़्क़ी नहीं कर सका और इसका सयासी मुस्तक़बिल ( भविष्य) मलियामेट ( बरबाद) हो गया।

येदि यूरप्पा के साथ भी यही होगा। बी जे पी को छोड़कर वो ख़ुद अपने हाथों से अपना सयासी मुस्तक़बिल ( भविष्य) तारीक ( अंधेरा) कर लेंगे। याद रहे कि वज़ीर-ए-आला के ओहदा से हटने के बाद पार्टी के आला क़ाइदीन ( उच्च नेताओं) की जानिब से नजरअंदाज़ किए जाने की शिकायत करते हुए येदि यूरप्पा ने कहा था कि वो दिसम्बर तक बी जे पी छोड़ देंगे।

TOPPOPULARRECENT