Friday , August 17 2018

बी जे पी , नवाज़ शरीफ़ की तौसीक़ पर शादां

दहशतगर्दी के मसाइल उठाएं, कांग्रेस का रद्द-ए-अमल

दहशतगर्दी के मसाइल उठाएं, कांग्रेस का रद्द-ए-अमल

बी जे पी ने नवाज़ शरीफ़ के इस फ़ैसले पर मुसर्रत का इज़हार किया कि वो नरेंद्र मोदी की बहैसियत वज़ीर-ए-आज़म हलफ़ बर्दारी तक़रीब में शिरकत करेंगे, जबकि कांग्रेस ने नई हुकूमत से मुतालिबा किया कि सरहद पार दहशतगर्दी, 26/11 हमलों के ट्रायल में सुस्त रवी और दा इबराहीम की हवालगी जैसे मसाइल वज़ीर-ए-आज़म पाकिस्तान से राबते में उठाएं।

बी जे पी तर्जुमान प्रकाश जावडेकर ने यहां कहा , ये ख़ुशख़बरी है कि वज़ीर-ए-आज़म पाकिस्तान ने नरेंद्र मोदी का दावतनामा क़बूल करलिया है ये नए रिश्ते की शुरूआत है। ये अच्छी ख़बर है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान, चीन, नेपाल, भूटान, श्रीलंका, माय‌नमार हिन्दुस्तान के पड़ोसी हैं।

और पड़ोसी बदले नहीं जा सकते हैं। मगर कांग्रेस ने आज की तब्दीली पर मुहतात रद्द-ए-अमल ज़ाहिर किया। सुबक़‌दोश होने वाले मर्कज़ी वज़ीर मनीष तिवारी ने याद दहाई कराई कि बी जे पी ने हमेशा यही मौक़िफ़ रखा कि दहशतगर्दी और मुज़ाकरात साथ साथ नहीं चल सकते हैं।

उन्होंने उम्मीद ज़ाहिर की कि इक़तेदार सँभालने के बाद बी जे पी हुकूमत 26/11 हमलों के ट्रायल की सुस्त रवी का मसला उठाएगी ऐसा मसला जो उन्हें परेशान करता रहा। उन्होंने ये भी कहा कि दा इबराहीम, हाफ़िज़ सईद जैसे लोगों का मसला भी उठाया जाना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT