Saturday , November 18 2017
Home / Khaas Khabar / बी सी कमीशन के बग़ैर तहफ़्फुज़ात का हुसूल ग़ैर यक़ीनी : ज़ाहिद अली ख़ान

बी सी कमीशन के बग़ैर तहफ़्फुज़ात का हुसूल ग़ैर यक़ीनी : ज़ाहिद अली ख़ान

हैदराबाद 12 अक्टूबर:ज़ाहिद अली ख़ान एडीटर रोज़नामा सियासत ने कहा कि अलाहिदा रियासत तेलंगाना के लिए जब जद्द-ओ-जहद की जारही तो उस वक़्त अर्बाब इक़तिदार ने इस बात का वादा किया था के मुस्लमानों को 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात को यक़ीनी बनाया जाएगा लेकिन इक़तिदार के इतने दिन गुज़र जाने के बावजूद हुकूमत अपने इस वादे पर कोई अमल आवरी ना की जिसकी वजह से सियासत ने मुसलसिल एक माह से इस बात की आवाज़ को बुलंद कर दिया है।

तहफ़्फुज़ात का वादा जो अवाम से कियागया उसे पूरा करदिखाएंगे। और बड़े आरज़ू-ओ-अरमानों को लिए रियासत तेलंगाना की अवाम खास्कर मुस्लमानों ने टी आर एसको इक़तिदार हवाले किया है और ख़ुद हमारे वज़ीर-ए-आला मुस्लमानों के मसाइल से बख़ूबी वाक़िफ़ हैं और वो एक हमदरद सेक्युलर हैं और रियासत तेलंगाना में अक़लियतों खास्कर मुस्लमानों को तालीमी मआशी रोज़गार को मज़बूत‍ ओ‍ मुसतखिम करने के लिए उनके इक़तिदार सँभालने के बाद वो काम अंजाम दिए गए हैं जिसकी नज़ीर तेलंगाना की तारीख़ में नहीं मिलती।

टी आर एस को इक़तिदार में आए 15 माह का अरसा गुज़र चुका तहफ़्फुज़ात की फ़राहमी के ज़िमन में उनकी कोई तवज्जा नज़र नहीं आती। ज़ाहिद अली ख़ान ज़िंदा दिलाँ हैदराबाद की सालाना तक़ारीब के दूसरे रोज़ कुल हिंद मज़ाहीया मुशायरा में मौजूद एक बड़े इजतेमा से सदारती ख़िताब कर रहे थे।

उन्होंने डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मुहम्मद महमूद अली की मौजूदगी में मुस्लमानों के लिए तहफ़्फुज़ात की फ़राहमी के ज़िमन में तवज्जा दिलाई तो ललित कलाथोरानम तालियों से गूंज उठा। उन्होंने कहा कि हमारा मुतालिबा सिर्फ इस पर हैके इन तहफ़्फुज़ात का चीफ़ मिनिस्टर ने ख़ुद वादा किया था इस लिए उसकी अमल आवरी के लिए बेहद ज़रूरी है और क़ानूनी तौर पर तहफ़्फुज़ात को हासिल करने के लिए सिवाए बी सी कमीशन के किसी और सिफ़ारिश के ज़रीये मुस्लमानों को तहफ़्फुज़ात हासिल ना हो सकेंगे।

TOPPOPULARRECENT