बुरहान वाणी की बरसी के अवसर पर कश्मीर में अधिक बल तैनात

बुरहान वाणी की  बरसी के अवसर पर कश्मीर में अधिक बल तैनात
Click for full image

नई दिल्ली: हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वाणी की पहली बरसी से पहले जम्मू-कश्मीर में अधिक से 21 हजार अतिरिक्त केंद्रीय अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है। अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा के लिए भी यह अर्धसैनिक बल चौकस रहेंगे।

केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि ने अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि बुरहान वाणी की पहली बरसी और अमरनाथ यात्रा के दौरान कश्मीर घाटी की स्थिति पर नजर रखने के लिए हम 214 कंपनियां भेजी हैं।

केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की एक कंपनी में 100 जवान होते हैं। यह फोर्सेस राज्य पुलिस बल और पहले से ही तैनात सेना के अलावा होगी। जम्मू-कश्मीर के 4 जिलों पुलवामा, कुलगाम, शोपियां और अनंतनाग में चौकसी विकल्प दिया गया है। हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी को पिछले साल 8 जुलाई को एनकाउंटर द्वारा मारा गया था।

Top Stories