बुलंदशहर गैंगरेप कांड में बयान देने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा, ‘आज़म ख़ान हाज़िर हों’

बुलंदशहर गैंगरेप कांड में बयान देने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा, ‘आज़म ख़ान हाज़िर हों’

लखनऊ: बुलंदशहर रेप मामले में यूपी के वरिष्ठ काबीना मंत्री आजम खान की सुप्रीम कोर्ट में पेशी होगी। बुलंदशहर रेप कांड में उनके बयान से कोर्ट खासा नाराज है। सीबीआई को आजम खान को नोटिस भेज कर कोर्ट में पेश होने के निर्देश दिए हैं ।मामले की अगली सुनवाई 25 अक्तूबर को होगी।

याद रहे, 29 जुलाई की रात बुलंदशहर में नेशनल हाइवे 91 पर मां और 14 साल की नाबालिग बेटी के साथ सामूहिक अस्मतदारी की गई थी। इस घटना को लेकर जब देशभर में बवाल मचा था। आजम खान ने यह कह कर नया विवाद खड़ा कर दिया था कि, हमें इस तरह से भी देखना चाहिए कि कहीं कोई विपक्षी विचारधारा जो सत्ता में आना चाहती है, सरकार को बदनाम करने के लिए कोई कुकर्म तो नहीं कर रही? कुछ भी हो सकता है।’

इस पर जब हंगामा मचा तो उन्होंने यह कह कर सफाई देनी चाही कि, उन्होंने विरोधियों की साजिश’ नहीं कहा था। यूपी में चुनाव नजदीक हैं। इस तरह की बहुत सी घटनाएं हो रही हैं। इसलिए इनकी जांच की जरूरत है। मैं निजी रूप से पीड़ित परिवार के साथ हूं। मगर पीड़ित के पिता बयान से संतुष्ट नहीं हुए और उनके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट चले गए। विपक्ष भी आजम के बयान पर मोर्चा खोले रखा।

यूपी बीजेपी अध्‍यक्ष केशव प्रसाद मौर्य द्वारा बलात्कार कांड की सीबीआई जांच की मांग उठाने पर अखिलेश सरकार ने मामला सीबीआई को सौंप दिया। इस मामले में पहले भी आजम खान को कोर्ट में पेशी के लिए सुप्रीम कोर्ट की ओर से नोटिस मिल चुका है।

Top Stories