बुलंदशहर- बीजेपी विधायक संगीत सोम के विवादित बोल, अखलाक को मुआवजा तो सुमित को क्यों नहीं

बुलंदशहर- बीजेपी विधायक संगीत सोम के विवादित बोल, अखलाक को मुआवजा तो सुमित को क्यों नहीं
विवादित बयानों के लिए फेमस बीजेपी विधायक संगीत सोम ने बुलंदशहर बवाल में मारे गए इंस्पेक्टर व युवक सुमित के मामले में प्रेस वार्ता के दौरान पूछे गए सवाल पर कहा कि इस मामले में योगी आदित्यनाथ के सख्त निर्देश हैं कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

इस घटना में वायरल हुए वीडिया में सुमित के हाथ में पत्थर दिखने पर सवाल किया गया कि वह दोषी है तो सरकार उसे मुआवजा क्यों दे रही है। इस पर संगीत सोम ने कहा कि इस मामले में दोषियों पर सख्त कार्रवाई होगी लेकिन क्या नोएडा के बिसाहड़ा में हुए इकलाख को मुआवजा दिए जाने के मामले में इस तरह सवाल उठे थे।

उन्होंने कहा कि जो भी अखलाक मामले में दोषी हैं उन सभी को सजा मिलनी चाहिए। लेकिन यह याद रखना चाहिए कि अखलाक के घर में गोवंश पाया गया था। उन्होंने यह भी कहा कि अखलाक को मुआवजा दिया गया तो सुमित को देने में क्या हर्ज है। उन्होंने कहा कि बलुंदशहर बवाल गोकशी का मामला है, इसे दंगा कहना उचित नहीं है।

गौरतलब है कि संगीत सोम  मेरठ में एक रेस्टोरेंट में पहलवान बबीता रानी के सम्मान कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे।

प्रेस वार्ता के दौरान राम मंदिर पर अपने विचार रखते हुए उन्होंने कहा कि विवादित स्थान पर मंदिर था और आज भी है। 2019 से पहले यहां भव्य मंदिर बनेगा। इस दौरान राम मंदिर बनाए जाने का नारा देते हुए उन्होंने सभी हिंदुओं से एकजुट रहने का आह्वान किया।

योगी आदित्यनाथ के हनुमान जी को दलित बताए जाने वाले बयान को लेकर उन्होंने कहा कि सीएम के बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया है, जबकि उनका आशय ये नहीं था। उन्होंने कहा कि दलित भी हमारे परिवार के लोग हैं और हम सभी एक परिवार हैं और बजरंग बली पूरी दुनिया और पूरे समाज के हैं।

Top Stories