Sunday , December 17 2017

बुलंद बने हर इमारत : वज़ीरे आला

इमारतें बुलंद बनें, ताकि आनेवाले वक़्त में लोग उसे देखे और सराहें। इमारतों की बड़ी अहमियत है। उससे फन तामीर का पता चलता है। ये बातें मंगल को वज़ीरे आला नीतीश कुमार ने कहीं। वे पुराना सेक्रेट्रिएट में इमारत तामीर कॉर्पोरेशन लिमिटे

इमारतें बुलंद बनें, ताकि आनेवाले वक़्त में लोग उसे देखे और सराहें। इमारतों की बड़ी अहमियत है। उससे फन तामीर का पता चलता है। ये बातें मंगल को वज़ीरे आला नीतीश कुमार ने कहीं। वे पुराना सेक्रेट्रिएट में इमारत तामीर कॉर्पोरेशन लिमिटेड के यौमे तासीस तकरीब में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि बिहार में कई इमारतों का तामीर हो रहा है। पटना के बाइनूल कवामी म्यूजियम की बिल्डिंग खास होगी। उसी तरह कन्वेंशन सेंटर भी अपने आप में अलग किस्म का होगा।

अनोखी होगी बिल्डिंग : किशनगंज में बनने वाले ज़िराअत कॉलेज की बिल्डिंग खास होगी। इसके इमारत में नये-पुराने डिजायन होगा। किशनगंज तो गरीबों का दार्जीलिंग माना जाता है। यहां के ज़िराअत यूनिवर्सिटी में डेयरी और हॉर्टिकल्चर का भी इंतेजाम होगा। बिल्डिंग तामीर के मामले में पसमान्दा इलाकों पर हुकूमत का खास जेहन है। जो भी इमारत बनेंगे वे मजबूत और सख्त होंगे। इमारतों में कम से कम तूअनाई की खपत हो। इसका खास ख्याल रखा जा रहा है। सूबे में ग्रीन बिल्डिंगों की भी तामीर कराया जायेगा।

TOPPOPULARRECENT