Thursday , December 14 2017

बेंगलुरु में भुखमरी से पीड़ित लोगों को भोजन उपलब्ध कराने का आदर्श अभियान शुरू

बेंगलुरु: भूख मिटाना इंसान की पहली आवश्यकता है भारत में आज भी ऐसे लाखों लोग हैं जो एक समय के भोजन के लिए तरस रहे हैं गरीब, कमजोर, अपाहिज और पिछड़े लोगों के लिए दो वक्त का खाना जुटा पाना मुश्किल होता है ऐसे ही भूखों को भोजन उपलब्ध कराने की अनोखी अभियान बेंगलुरु के लेबनीज़ रेस्तरां ने शुरू की है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

लेबनान के पकवान के लिए मशहूर इंद्रानगर स्थित बाइबलोज़ लेबनीज़ रेस्तरां के मास्टर शेफ अम्मर मुल्की ने फुटपाथ पर जीवन बिताने वालों और भुखमरी से पीड़ित लोगों के लिए भोजन उपलब्ध कराने का अभियान शुरू किया है.
अम्मर मुल्की ने अपने रेस्तरां के बाहर एक फ्रीज़ रखा है जो लोग खाने के बाद गरीबों के लिए भी खाना खरीद कर उसमें रखते हैं और होटल में बचा अच्छा खाना भी उसी फ्रिज में रखा जाता है तो जरुरतमंद लोग फ्रिज से खाना निकाल खाते हैं दोपहर रात रेस्तरां बंद होने तक यह फ्रिज बाहर ही रखा जाता है.
सीरिया से संबंधित मास्टर शेफ अममर मुल्की का कहना है कि सीरिया में गृह युद्ध के दौरान भूख से तड़पते लोगों को उन्होंने देखा है और वह खुद भी भूख और गरीबी का एहसास रखते हैं। इसीलिए उन्होंने फ्रिज योजना शुरू की है.
अम्मर मुल्की ने इस योजना के लिए रोटरी बेंगलुरु ब्रिगेड से फ्रिज का सहयोग प्राप्त किया है, रोटरी ब्रिगेड सामाजिक संगठन ने अम्मर के इस योजना को पसंद करते हुए उन्हें फ्रिज प्रदान किया और वह अन्य होटलों को भी ऐसे ही फ्रिज प्रदान करना चाहते हैं मास्टर शेफ अम्मर का भी कहना है कि अन्य होटल और रेस्तरां वाले भी ऐसा फ्रिज अपने रेस्तरां के बाहर रखें ताकि लोगों को भोजन मिल सके.
इस रेस्तरां में ऐसे कई ग्राहक आते हैं जो अपने पसंदीदा भोजन खाने के बाद बाहर रखे रेफ्रिजरेटर के लिए भी खाना ऑर्डर करते हैं रेस्तरां की इस अनोखे पहल को सब पसंद कर रहे हैं.

TOPPOPULARRECENT