बेटा इंजीनीयरिंग में बेटी फार्मेसी में और माँ ने इंटर फ़रस्ट इयर की परीक्षा लिखी

बेटा इंजीनीयरिंग में बेटी फार्मेसी में और माँ ने इंटर फ़रस्ट इयर की परीक्षा लिखी

विजयवाड़ा: शिक्षा हासिल करने की कोई उम्र नहीं होती ।इन्सान किसी भी उम्र में शिक्षा हासिल करसकता है जब उस के दिल में शिक्षा हासिल करने का जज़बा हो। इसी तरह के एक वाक़िये में एक माँ , इंटर फ़रस्ट इयर की परीक्षा इस उम्र में लिख रही है जब उस का लड़का इंजीनीयरिंग और लड़की फार्मेसी की छात्र‌ हैं बताया गया है कि आंध्र प्रदेश में 28 फरवरी से इंटरमीडियेट के परीक्षा शुरू हुई परीक्षा के पहले दिन ज़िला गुंटूर के एक परीक्षा सैंटर पर सौ कुमारी नामी 37 वर्षीय महिला ने भी अपने बच्चों की उम्र के साथीयों के साथ इंटर फ़रस्ट इयर की परीक्षा लिखी।

बताया गया है सो कुमारी आशा वर्कर का काम कर‌ती है हाई स्कूल पूरा करने से पहले उसकी शादी हो गई थी और वो शिक्षा को जारी रखना चाहती थी 2010 में उसने दसवीं की कक्षा पूरी की थी घर के काम काज और आशा वर्कर के काम‌ के दौरान वो काफ़ी व्यस्थ‌ थी लेकिन इस साल सौ कुमारी ने किसी भी तरह इंटर की शिक्षा पुरा करने के जज़बे के तहत परीक्षा लिख रही है।

Top Stories