Sunday , December 17 2017

बेनी प्रसाद वर्मा को भी इलेक्शन कमीशन की नोटिस

इलेक्शन कमीशन ने आज मर्कज़ी वज़ीर फ़ौलाद मिस्टर बेनी प्रसाद वर्मा को नोटिस जारी की जो उनके अक़ल्लीयतों को ज़ेली कोटा तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने से मुताल्लिक़ रिमार्कस पर की गई कार्रवाई है। कमीशन ने अपनी नोटिस में कहा कि मिस्टर वर्मा के रि

इलेक्शन कमीशन ने आज मर्कज़ी वज़ीर फ़ौलाद मिस्टर बेनी प्रसाद वर्मा को नोटिस जारी की जो उनके अक़ल्लीयतों को ज़ेली कोटा तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने से मुताल्लिक़ रिमार्कस पर की गई कार्रवाई है। कमीशन ने अपनी नोटिस में कहा कि मिस्टर वर्मा के रिमार्कस बादियुन्नज़र में इंतेख़ाबी ज़ाबता अख़लाक़ की ख़िलाफ़वर्ज़ी हैं और मिस्टर वर्मा को इस नोटिस पर पीर की शाम तक जवाब दाख़िल करना चाहीए ।

मिस्टर वर्मा दूसरे मर्कज़ी वज़ीर हैं जिन्हें ये नोटिस जारी की गई है । इससे क़ब्ल वज़ीर क़ानून मिस्टर सलमान ख़ूर्शीद को ये नोटिस जारी की गई थी । मिस्टर ख़ूर्शीद ने भी अक़ल्लीयतों को ज़ेली कोटा तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने के ताल्लुक़ से रिमार्कस किए थे । इलेक्शन कमीशन ने उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद असेंबली हलक़ा में मिस्टर वर्मा की तक़रीर के वीडियो रिकॉर्डिंग्स का मुआइना किया और कहा कि मिस्टर वर्मा ने अपनी तक़रीर में कुछ रिमार्कस के ज़रीया इंतेख़ाबी ज़ाबता अख़लाक़ की ख़िलाफ़वर्ज़ी की है ।

इलेक्शन कमीशन की नोटिस में मज़ीद कहा गया है कि मिस्टर बेनी प्रसाद वर्मा के अक़ल्लीयतों को तहफ़्फुज़ात में ज़ेली कोटा फ़राहम करने से मुताल्लिक़ रिमार्कस से ये वाज़िह हो जाता है कि मिस्टर वर्मा ख़ुद भी ये जानते थे कि वो इस तरह के रिमार्कस करते हुए इंतेख़ाबी ज़ाबता अख़लाक़ की ख़िलाफ़वर्ज़ी कर रहे हैं और उन्होंने उम्दा और अपनी मर्ज़ी से ये सब कुछ किया है ।

कमीशन ने मिस्टर वर्मा से कहा है कि वो 20 फ़रवरी ( पीर ) की शाम 5 बजे तक कमीशन को जवाब दाख़िल करें और ये वज़ाहत करें कि इंतेख़ाबी ज़ाबता अख़लाक़ की ख़िलाफ़वर्ज़ी करने पर उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई क्यों ना की जाए । नोटिस में कहा गया है कि मिस्टर वर्मा अगर मज़कूरा मोहलत तक जवाब दाख़िल ना करें तो कमीशन मज़ीद किसी नोटिस के इस मसला पर फैसला कर देगा ।

ज़राए ने कहा कि कमीशन ने उनके रिमार्कस का सख़्त नोट लिया है खास तौर पर उनके इन रिमार्कस का नोट लिया गया है जिनमें मिस्टर वर्मा ने कमीशन को उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई का चैलेंज किया है । चहारशंबा की रात फर्रुखाबाद में एक जलसा से ख़िताब करते हुए मिस्टर बेनी प्रसाद वर्मा ने था कि मुस्लमानों के लिए तहफ़्फुज़ात में इज़ाफ़ा किया जाएगा और अगर इलेक्शन कमीशन चाहता है तो वो उनके ख़िलाफ़ भी नोटिस जारी कर सकता है ।

इस जलसा में मिस्टर द्विग विजय सिंह और मिस्टर सलमान ख़ूर्शीद भी मौजूद थे । मिस्टर वर्मा ने आज लखनऊ में कहा कि इनके रिमार्कस दानिस्ता तौर पर नहीं किए गए थे और ये ज़बानी लग़्ज़िश थी। उन्होंने कहा कि वो रोज़ाना चार से पाँच रैलियों से ख़िज़ाब कर रहे हैं और बाअज़ मर्तबा वो जो कुछ कहते हैं इस पर तवज्जा नहीं कर पाते । उन्होंने कहा कि वो इलेक्शन कमीशन का एहतिराम करते हैं और सभी को ऐसा करना चाहीए ।

इलेक्शन कमीशन ने अपनी नोटिस में मज़ीद कहा कि जिन रियासतों में इंतेख़ाबात हो रहे हैं वहां 24 दिसम्बर से ही इंतेख़ाबी ज़ाबता अख़लाक़ नाफ़िज़ हो चुका है जिसके तहत किसी भी उम्मीदवार या जमात को ज़ात पात या फ़िर्कावाराना एहसासात को भड़काते हुए वोट हासिल करने की कोशिश नहीं करना चाहीए । इसके अलावा नोटिस में कहा गया है कि मर्कज़ यह रियासत यह किसी और मुताल्लिक़ा रियासत में बरसर ए इक़्तेदार रहने वाली जमात को भी किसी को शिकायत का मौक़ा नहीं देना चाहीए और ना ही सरकारी ओहदा का ग़लत इस्तेमाल करना चाहीए ताकि इंतेख़ाबात में फ़ायदा हासिल किया जा सके ।

इसके अलावा ज़ाबता अख़लाक़ के तहत ये भी है कि वुज़रा और दीगर हुक्काम उम्मीदवारों के लिए किसी भी तरह की मआशी सहूलतों का ऐलान ना करें ना वायदे किए जाएं जिससे राय दहिंदों को बरसर ए इक़्तेदार पार्टी के हक़ में राग़िब करने में मदद मिल सके ।मिस्टर बेनी प्रसाद वर्मा ने ताहम आज ये नहीं बताया कि वो इलेक्शन कमीशन की नोटिस का कब और क्या जवाब देंगे ।

ताहम उन्होंने कमीशन की नोटिस पर मिस्टर सलमान ख़ूर्शीद की तरह हट धर्मी रवैय्या इख्तियार करने से गुरेज़ ज़रूर किया है

TOPPOPULARRECENT