बेक़ाबू हाथी से निमटने हैदराबाद के मशहूर शिकारी शफ़ाअत अली ख़ान बिहार रवाना

बेक़ाबू हाथी से निमटने हैदराबाद के मशहूर शिकारी शफ़ाअत अली ख़ान बिहार रवाना
हैदराबाद से ताल्लुक़ रखने वाले मशहूर शिकारी नवाब शफ़ाअत अली ख़ान को बिहार हुकूमत ने हंगामी हालात में तलब करते हुए भागलपुर इलाके में अवाम बिशमोल ख़वातीन को रौंद कर हलाक करने वाले हाथी को हलाक करने के लिए ख़ुसूसी ऑप्रेशन की ज़िम्मेदार

हैदराबाद से ताल्लुक़ रखने वाले मशहूर शिकारी नवाब शफ़ाअत अली ख़ान को बिहार हुकूमत ने हंगामी हालात में तलब करते हुए भागलपुर इलाके में अवाम बिशमोल ख़वातीन को रौंद कर हलाक करने वाले हाथी को हलाक करने के लिए ख़ुसूसी ऑप्रेशन की ज़िम्मेदारी सौंपी।

शफ़ाअत अली ख़ान को बिहार हुकूमत ने उन्हें दिल्ली से बिहार चीफ़ मिनिस्टर के ख़ुसूसी हैलीकाप्टर के ज़रीये तलब करते हुए भागलपुर इलाके में महिकमा जंगलात के हमराह एक टीम को ताय्युनात कर दिया।

बताया जाता हैके 10 ता 12 साल का नर हाथी ने अब तक छः अफ़राद दो ख़वातीन को रौंद कर हलाक कर दिया और कई खेतों की फसलों को भी रौंद कर तबाह कर दिया है।

झाड़खंड के जंगलाती इलाके से बिहार के आबादी वाले इलाके में भटक जाने वाले इस ख़तरनाक हाथी ने वहां की अवाम की नींद उड़ा दी है । बताया जाता हैके शफ़ाअत अली ख़ान ने इस हाथी पर क़ाबू पाने और उसे दुबारा जंगल में वापिस भेजने के लिए ख़ुसूसी ऑप्रेशन का आग़ाज़ कर दिया है और शाम की इत्तेला मौसूल होने तक हाथी को झारखंड के सरहद पर जाने पर मजबूर कर दिया गया।

Top Stories