Friday , December 15 2017

बैंक के 100 कर्ज़‌ बकाएदारों के नाम प्रदर्शित करने की मांग

नई दिल्ली:विपक्षी दलों ने आज राज्यसभा में हंगामा किया और सरकार से मांग की कि वह बैंक न्यूनतम 100 कर्ज़‌ बकाएदारों के नाम प्रदर्शित करें, और उनके नामों को अखबारों में प्रकाशित करे। उन्हें बचाने वालों को भी नहीं बख्शा जाएगा। राज्यसभा में सपा सदस्य नरेश अग्रवाल ने इस समस्या को उठाया और कहा कि आरबीआई ने हाल ही मे सबसे बड़े कर्ज़‌ बकाएदारों की सूची जारी की है।

उनकी वजह से देश में 25 प्रतिशत का बोझ बढ़ गया है लेकिन आरबीआई ने इन कर्ज़‌ बकाएदारों के नामों को प्रकाशित करने से इनकार किया है। अगर कर्ज़‌ न देने वाले छात्र या किसान का नाम प्रकाशित किया जाता तो इन बड़े कर्ज़‌ बकाएदारों के नाम छिपा क्यों रखा जा रहा है? उन्होंने इन सभी 100 कर्ज़‌ बकाएदारों के नाम जनता के सामने पेश करने की मांग की।

देश यह जानना चाहता है कि आखिर ये कौन लोग हैं जिनके बचाया जा रहा है। उन्होंने राज्यसभा के नेता और वित्त मंत्री अरुण जेटली से भी जवाब देने की मांग की जो उस समय सदन में मौजूद थे। लेकिन अरुण जेटली ने इसका कोई जवाब नहीं दिया। डिप्टी चेयरमैन पी जी कोरियाई कहा कि जो मुद्दा उठाया गया है वह महत्वपूर्ण है लेकिन उस पर चर्चा का यह समय नहीं है। इसके बाद अग्रवाल ने संसद से कहा तो बजट स्वीकृत किया जाता चाहिए। विपक्षी दलों के अन्य सदस्यों ने भी अग्रवाल की मांग का समर्थन किया।

TOPPOPULARRECENT