बैटरी से चलने वाली चीजों के लिए क्रांति, कम खर्चे में चलती है तीन गुना ज्यादा

बैटरी से चलने वाली चीजों के लिए क्रांति, कम खर्चे में चलती है तीन गुना ज्यादा
Click for full image

वैज्ञानिकों ने एक ऐसी बैटरी का आविष्कार किया है जो सेल या बैटरी से चलने वाली चीजों के लिए क्रांति साबित हो सकती है। लिथियम-आयन बैटरी (Lithium-ion) के जनक माने जाने वाले वैज्ञानिक जॉन गुडइनफ के नेतृत्व वाली एक टीम ने पहली ऐसी सॉलिड स्टेट बैरी बनाई है जो माजूदा बैटरियों से कहीं ज्यादा तेज, सुरक्षित और लंबी लाइफ वाली है।

आइए जानते हैं इस सॉलिड स्टेट बैटरी की खूबियां:
इस बैटरी को बनाने में किसी भी अन्य के मुकाबले काफी कम खर्ज आता है।
चाहे कार में हो या फोन में इस्तेमाल हो, इस बैटरी के जलने या फटने का चांस बेहद कम होता है यानि ये पूरी तरह सुरक्षित है।
प्रयोग में पाया गया है कि इस बैटरी की ऊर्जा का घनत्व (density) दूसरी बैटरियों से तीन गुना ज्यादा है। इसके कारण ये ज्यादा देर तक काम करती है। यानि मोबीइल में लगी हो तो आपको फोन ज्यादा देर तक काम करेगा और कार में लगी है तो ज्यादा दूर तक आपकी कार जा सकेगी।
यह चार्ज और डिसचार्ज होने में कम समय लेती है, जिसके कारण इस बैटरी की लाइफ किसी भी और बैटरी से काफी ज्यादा होगी।
इसके अलावा इसे चार्ज होने में कम समय लगता है यानि ये घंटों में नहीं बल्कि कुछ मिनटों में ही पूरी चार्ज हो जाती है।
इसके इलेक्ट्रोलाइट्स की कंडक्टिवीटी ज्यादा होने के कारण ये बेहद ठंडे इलाकों में भी आसानी से काम कर सकती है।
ये पहली ऐसी सॉलिड स्टेट बैटरी है जो -60 डिग्री में भी काम कर सकती है।

Top Stories