Monday , July 16 2018

बॉलीवुड में पाकिस्तानी कलाकारों को बैन करेगी प्रोड्यूसर्स काउंसिल

बॉलीवुड फिल्मों में पाकिस्तानी कलाकारों को बैन करने का मुद्दा एक बार फिर चर्चा में हैं. वाशु भगनानी और बाबुल सुप्रियो ने ये मांग उठाई है. इसके बाद दिल्ली में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इंडियन फिल्म एंड टीवी प्रोड्यूसर्स काउंसिल के अध्यक्ष सुरेश अमीन ने कहा है कि काउंसिल हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री में पाकिस्तानी कलाकारों को बैन करने का फैसला लेगी.

फिल्म निर्माता वाशु भगनानी ने कहा है कि वे फिल्म इंडस्ट्री से पाकिस्तानी कलाकारों का बहिष्कार करने की बात कहेंगे. वाशु भगनानी ने अपनी फिल्म वेलकम टू न्यूयॉर्क में अरिजीत सिंह के गाने को ह‍टाने से जुड़े विवाद पर बात की. उन्होंने कहा कि फिल्म में अरिजीत ने कोई गाना गाया ही नहीं, इसलिए उनसे गाना छीनकर पाकिस्तानी गायक राहत फतेह अली खान को देने का सवाल नहीं उठता. वाशु ने कहा कि दो साल के लिए बॉलीवुड में पाकिस्तानी कलाकारों को बैन कर देना चाहिए.

इस विवाद से जुड़े बाबुल सुप्रियो ने कहा है, यदि हम पाकिस्तानी कलाकारों को बैन करेंगे तो हमारे सैनिकों का मनोबल बढ़ेगा कि स्टार और बॉलीवुड पाक कलाकारों के खिलाफ कदम उठा रहे हैं. उन्होंने कहा, हमारे प्रधानमंत्री सारे प्रोटोकॉल तोड़कर पाकिस्तानी पीएम से मिलने जाते हैं. मुझे इसी पीसी के लिए डांट भी पड़ सकती हैं, लेकिन मैं आज यहां सारे सवालों के जवाब दूंगा.

बता दें कि बाबुल सुप्रियो ने अरिजीत के गाने को हटाकर राहत गवाने पर विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था, ‘मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि जब भारत-पाक के बीच तनाव बढ़ा हुआ है, तो हम सीमा पार टैलेंट क्यों ढूंढ रहे हैं. ऐसा नहीं होना चाहिए कि एफएम पर पाकिस्तानी गायकों के गाने चलें और समाचार चैनलों पर पाकिस्तानी हमले में शहीद जवानों के.’ उन्होंने कहा था, ‘मुझे आतिफ असलम या राहत से कोई परेशानी नहीं, उनकी नागरिकता से परेशानी है. बॉलीवुड दुनियाभर में भारत का प्रतिनिधित्व करता है. पाक कलाकारों को बैन कर दुनियाभर में पाकिस्तान द्वारा फैलाए जा रहे आतंकवाद का विरोध करना चाहिए. बॉलीवुड से शोहरत पाने वाले किसी भी पाकिस्तानी कलाकार ने भारत में हमलों को लेकर अपने देश की निंदा नहीं की है.’

फिल्मकार अशोक पंडित ने पाकिस्तानी सिंगर राहत फतेह अली खान द्वारा अपनी फिल्म में गाना गंवाए जाने की निंदा की है. उन्होंने कहा कि फिल्मों में आख‍िरी वक्त में गाने बदले जाते हैं, राहत फतेह अली खान का गाना भी किसी और सिंगर से बदला जा सकता था. राहत फतेह अली खान उस देश के नागरिक हैं, जो हर रोज हमारे जवान और आम लोगों को मार रहा है. उनसे अपील है कि वे पाकिस्तानी कलाकारों के बैन का सम्मान करें.

 

TOPPOPULARRECENT